अब आगे होने वाले दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के चयनकर्ताओं की होने वाली बैठक में वनडे टीम के लिए कप्तान किसे बनाया जाये , और टेस्ट क्रिकेट में उप कप्तान के रूप में क्या आजिंक्य रहाणे को रखे या किसी और का चयन करे इस बारे में चर्चा होगी। अभी चल रहे मुंबई टेस्ट पर चयन समिति के अध्यक्ष चेतन शर्मा , सुनील जोशी और अभय कुरुविला की नजरे है। टेस्ट मैच ख़त्म होने के बाद वे BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली के साथ एक बैठक करेंगे जिसमे बहुत से फैसले लिए जायेंगे जो भारतीय क्रिकेट टीम के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण होंगे। इस बैठक में उल्टे हाथ के ओपनर शिखर धवन और टीम इंडिया के फ़ास्ट गेंदबाज इशांत शर्मा के भविष्य की भी चर्चा होगी।

दक्षिण अफ्रीका जाकर टीम इंडिया को 3 वनडे मैच खेलने है। जहा एक और वनडे के कप्तान विराट कोहली है और टी-20 के कप्तान हाल ही में रोहित शर्मा को बनाया गया है। अब बात ये है की सिमित ओवर के मैच में एक ही कप्तान का होना हमेशा से सही माना गया है , क्योकि ये जरुरी नहीं है की उन दोनों की सोच एक जैसी हो , और अगर ऐसा है तो ये टीम के लिए परेशानी की बात हो सकती है। तो अब 2023 में जो 50 ओवर का वर्ल्ड कप होने वाला है तब तक BCCI दोनों प्रारूपों में एक ही कप्तान रखने के बारे में चर्चा करेगी।
अगर बात BCCI के सूत्रों की करे तो उनके अनुसार भी वनडे टीम के कप्तान के रूप में रोहित को ही देखना चाहेंगे। इसलिए विराट कोहली की अब मुश्किल बढ़ती दिखाई दे रही है। उनका बोलना है की ” इस तरह का फैसला लेने में अभी समय लग सकता है क्योकि इस साल इतने ज्यादा वनडे मुकाबले नहीं है , तो वनडे का महत्व भी इस साल के लिए ज्यादा नहीं है। ” अलग अलग कप्तान होने के विरोध में उन्होंने कहा कि इन दोनों प्रारूपों में एक ही कप्तान होने का मतलब है कि उनके विचारो में टकराव हो सकता है। ऐसे में ये सही रहेगा कि रोहित को जल्द से जल्द कप्तानी सौप देनी चाहिए ताकि वर्ल्डकप 2023 से पहले टीम तैयार करने का जरुरी समय मिल जाये।
रोहित को उपकप्तान बमाये जाने के साथ पुजारा और रहाणे की टेस्ट टीम में जगह बानी रहेगी। लेकिन जरुरी नहीं है कि ख़राब लय में चल रहे रहाणे टॉप 11 में अपने आप को काबिज रख पाएंगे। अभी सूर्यकुमार और हनुमा विहारी मिडिल आर्डर के लिए अच्छे विकल्प है। साथ ही शानदार लय में खेल रहे श्रेयस अय्यर और सुबमण गिल को टीम से अलग रख पाना नहीं होगा।
टीम इंडिया के एक अधिकारी के अनुसार रहाणे कि गैर मौजूदगी में अब टेस्ट टीम के लिए एक उपकप्तान का होना जरुरी है , और इसके सबसे अच्छे विकल्प के तौर पर टी-20 के कप्तान रोहित ही पहली पसंद होंग। बता दे कि रोथित ने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट टीम के उपकप्तान की जिम्मेदारी संभाली थी।
गेंदबाज के रूप में अभी इशांत शर्मा के लिए मुश्किल है , वो अभी काफी समय से फॉर्म में नहीं चल रहे है तो उनकी जगह सिराज को रखा जा सकता है क्योकि वो अभी अच्छे फॉर्म में है। भारत ए के साथ साउथ अफ्रीका गए अभिमन्यु ईश्वरन और प्रियांक पांचाल भी चयन कर्ताओ को अपनी ऒर आकर्षित कर सकते है। ये दोनों चेतेश्वर पुजारा कि जगह ले सकते है। उमेश यादव भी अभी इशांत को अच्छे से टक्कर दे रहे है। बुमराह और शमी कि जगह तो टीम में कोई नहीं ले सकते।
दूसरी ओर आवेश खान और प्रसिद्ध कृष्णा को रिजर्व गेंदबाजों कि लिस्ट में रखा ही गया है। अब रही बात शिखर धवन की। क्या उनको टीम में जगह मिलेगी। शिखर के नाम 17 शतक है और उनकी पिछली पारियो में भी 98 ,67 और नाबाद 86 रन है। इसलिए इनके बारे में भी टीम को अच्छे से विचार करना होगा।