देश के परिवहन का सबसे सस्ता और सबसे अधिक प्रयोग में किए जाने वाले इस साधन में भारतीय रेलवे अपनी रेल यात्रियों को जल्द ही महंगाई का एक बहुत ही बड़ा झटका देने जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार आप को बता दे की रेलवे अब अपने यात्रियों से स्टेशन डेवलपमेंट शुल्क के नाम पर एक्स्ट्रा चार्ज वसूल करने जा रहा है। जिसकी मंजूरी भारतीय रेलवे की ओर से ही प्रदान की जा रही है।

 

आपको बता दें कि इस समय रेलवे पुनर्विकास योजना के अंतर्गत पुरे ही देश के कई रेलवे स्टेशनों को आधुनिक बनाने का कार्य चल रहा है, और बहुत से रेलवे स्टेशन का कार्य जल्द ही शुरू भी किया जा सकता है। वैसे मैं ऐसी खबरें अभी सामने आ रही है कि जिन स्टेशनों पर रेलवे द्वारा किया जा रहा पुनर्विकास का काम चल रहा है, वहां पर यात्रियों से स्टेशन डेवलपमेंट शुल्क पर अधिक पैसे वसूल जा सकते है।

कितना बढ़ाया जा सकता है किराया

मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दे की इन स्टेशनों पर रेल यात्रियों से करीब 10 से लेकर के 50 रुपए तक का चार्ज वसूल किया जा सकता है। चार्ज वसूलने का रेलवे का शेड्यूल कुछ इस प्रकार से है कि इन स्टेशनों पर यात्रियों से चढ़ने और उतरने पर दोनों का शुल्क वसूल किया जा सकता है।

 

स्टेशन डेवलपमेंट शुल्क के नाम पर इस तरह से सेकंड क्लास, स्लीपर क्लास और फर्स्ट क्लास रिजर्व नॉन-AC क्लास के यात्रियों को विकसित या फिर पुनर्विकसित स्टेशनों की अत्याधुनिक सेवाओं का इस्तेमाल करने के लिए 25 रुपए अतिरिक्त लिए जाएंगे।

इसके साथ साथ में AC चेयर कार, थर्ड AC, AC इकोनॉमी क्लास, सेकेंड AC, फर्स्ट AC और AC विस्टाडोम सहित AC रिजर्व क्लास के यात्रियों के लिए यह चार्ज करीब 50 रुपए प्रति यात्री से लिया जाएगा। इन स्टेशनों पर प्लेटफार्म टिकट भी खरीदना अब महंगा हो जाएगा क्योंकि जो व्यक्ति इन स्टेशनों पर प्लेटफार्म टिकट खरीदेंगे उनके टिकट में भी 10 रुपए अधिक जो की डेवलपमेंट शुल्क के नाम पर जोड़ दिया जा रहा है।