बिहार राज्य का पहला सुरंग बिहार राज्य के मुंगेर जिले में स्थित है, लकिन अब उसके बाद बिहार राज्य का दूसरा सुरंग भी बनकर तैयार हो चुका है, और इस पर ट्रेन का ट्रायल भी पुर कर लिया गया है। मिली जानकरी के अनुसार आपको बता दूं कि इस सुरंग को महज 11 सेकेंड में ही इस ट्रेन ने इस सुरंग को पूरी तरह से पार कर लिया, और वहां पर लोगों की भीड़ भी देखी गई।

 

मिली खबरो के अनुसार आपको बता दें कि पूर्व रेलवे मालदा मंडल के अधीन जमालपुर और रतनपुर रेलवे स्टेशनों के बीच बनायीं गयी इस नई रेल सुरंग से 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली जा ट्रेन का सफल ट्रायल किया गया तो इस दौरान ट्रेन के इंजन में सिर्फ एक ही डिब्बा लगाया गया था और 341 मीटर इस रेल सुरंग से यह ट्रेन महज 11 सेकंड में ही इस सुरंग को पार कर दी। मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दूं कि इस सुरंग से गुजरने के वक्त ट्रेन की रफ्तार 120 किलोमीटर के आसपास रखी गई।

इस सुरंग का 10 जनवरी 2022 को किया जायेगा उद्धघाटन

मिली खबरों के अनुसार आपको बता दे की इस सुरंग का उद्धघाटन करीब 10 जनवरी 2022 किया जा सकता है, पर अब तक इस पर कोई भी अधिकारिक बयान निकलकर नहीं आया है। जानकारी के लिए आपको यह बता दूं कि यह सुरंग मालदा मंडल में हाइटेक सुरंग के रूप ने बनायीं गयी सुरंग है। और अब इस सुरंग से जल्द ही राजधानी जैसी अन्ये कई सुपरफास्ट ट्रेनों का परिचालन भी जल्द ही शुरू कर दिया जाएगा मिली जानकारी के लिए आपको बता दूं कि यह रेल सुरंग बिहार के मुंगेर जिले के जमालपुर में स्थित है।

 

यहां पर बिहार राज्य का पहला सुरंग बनाया गया था जोकि अंग्रेज के जमाने या समय में बनाया गया था। बिहार का दूसरा सुरंग भी इसी सुरंग के कुछ ही मीटर की दूरी पर बनाया गया, जो कि ऑस्ट्रेलियन तकनीक से इसका निर्माण कार्य किया गया था।