सेब ज्यादातर ऐसे इलाकों में होते हैं जहां पर ज्यादा ठंड होती है जैसे शिमला, कश्मीर, हिमाचल प्रदेश जहां पर आप ने बड़े-बड़े सेब के बागान देखे होंगे। लेकिन अभी बिहार में भी ऐसा कल्चर चल रहा है जहां पर सेब और अन्य फलों की खेती की जा रही है।

जिसमे मौसमी, और ड्रेगन फ्रूट जैसे फल शामिल है। और इसी खेती से बिहार के किसान लाखो की कमाई कर रहें हैं। बिहार में ऐसी ही खेती और अधिक बढ़ाने के लिए कृषि विभाग ने प्रोजेक्ट पायलट शुरू किया है जिसमें बिहार के 7 जिलों में फलों की पैदावार को बढ़ाने का काम किया जाएगा। बताया जा रहा है कि इस योजना के तहत 10 हेक्टेयर में सेब की खेती करने की योजना है।

इन जिलों के अंतर्गत वैशाली बेगूसराय भागलपुर में 2–2 हेक्टेयर तथा कटिहार वैशाली समस्तीपुर में एक एक हेक्टेयर भूमि पर काम किया जायेगा। अभी हाल फिलहाल भागलपुर जिले के अलावा वैशाली औरंगाबाद गोपालगंज और बेगूसराय जिलों में किसान सेब की खेती करने में लगे हुए हैं।

बिहार के किसान इन फलों की खेती करके अधिक से अधिक लाभ कमा रहे हैं और इनका मुनाफा लाखों में आता है बिहार में उगने वाले सेब की प्रजाति की बात करें तो यह प्रजाति हरमन 99 पर जाती है। दोस्तों अब बिहार में और अधिक फलों की पैदावार होने वाली है।