मित्रो भारतीय टीम की दृष्टि से मुंबई में हुआ भारत न्यूजीलैंड का सेकंड टेस्ट काफी शानदार रहा है, भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड की टीम को काफी बुरी तरह से हराते हुए सीरीज अपने नाम करली है , सबसे पहले तो इंडियन बल्लेबाजों ने न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को अच्छे से पीटा और फिर जब बारी उनके बल्लेबाजों कि आयी तो उन्हें 62 रन पर ही ढेर कर दिया , और अंत में न्यूजीलैंड को 372 रन के बड़े अंतर से हराया और एक एतिहासिक जीत हासिल की ।


इस हार का एक कारण तो साफ है कि न्यूजीलैंड की टीम ने कोई खास प्रदर्शन नहीं किया , लेकिन दूसरा कारण है न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन का टीम में ना होना , आपको बता दे कि न्यूजीलैंड के कप्तान को कोहनी ने चोट लगी थी जो उन्हें काफी परेशान कर रही है और इसी वजह से टीम मैनेजमेंट ने उन्हें मुंबई टेस्ट से दूर रखा था । टीम अपने कप्तान की अनुपस्थिति में कोई खास प्रदर्शन करके नहीं दिखा सकी और हार गई।
इस चोट के कारण टीम की पूर्व कोच माइक हसन ने भी केन विलियमसन को कुछ समय के लिए क्रिकेट से दूर रहने की सलाह दी है , माइक हसन ने इयान स्मिथ से बातचीत करते हुए ये बात बोली है कि अगर केन इस चोट से पूरी तरह ठीक होना चाहते है तो उन्हें इसका एक प्रॉपर इलाज करवाना होगा और इसका इलाज सर्जरी से ही संभव हो पाएगा , क्योंकि इस वजह से उन्होंने काफी आराम कर लिया है पिछले 18 महीनों में उन्होंने बहुत से मैच नहीं खेले है। ये उनके लिए भी परेशानी खड़ी करता होगा , क्रिकेट से दूर होना किसी खिलाड़ी को अच्छा नहीं लगता। अभी हाल ही में उन्हें कूल्हे की चोट भी लगी है लेकिन उनकी कोहनी की चोट इस चोट से बहुत ज्यादा परेशान कर रही है ।

न्यूजीलैंड के शैडयूल की बात करे तो अब जनवरी मे टीम को बांग्लादेश के दौरे पर जाना है जहां उन्हें 2 टेस्ट मैच खेलने है , इसके बाद ऑस्ट्रेलिया जाकर 2 वनडे और एक टी20 मैच खेलेगी । बांग्लादेश के दौरे के लिए भी केन विलियमसन को आराम करने के लिए कहा गया है , ऑस्ट्रेलिया से खेलने के बाद न्यूजीलैंड को साउथ अफ्रीका के लिए रवाना होना है और 2 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी और अपने घर लोटेगी। इसके बाद भारतीय टीम का न्यूजीलैंड दौरा है जहां भारत के साथ उन्हें 3 वनडे मैच खेलने है
अब बस इस बात का इंतजार है कि केन विलियमसन वापस बल्लेबाजी करने के लिए कब तक फिट हो पाते है ।