भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज का अंत हो गया है जहां पहला टेस्ट भारत ने जीता था और दूसरा टेस्ट साउथ अफ्रीका ने जीतकर सीरीज को बराबरी पर ला दिया था लेकिन तीसरा टेस्ट जो कि 11 जनवरी से शुरू हुआ था उसका रिजल्ट आ गया है और साउथ अफ्रीका ने भारत को 7 विकेट से मात दे दी है और सीरीज पर कब्जा जमा लिया है। और दक्षिण अफ्रीका इस सीरीज को 2-1 से जीत गया है। आपको बता दें कि पहला मैच तो भारत में 113 रन से जीता था लेकिन बाद के दोनों में भारत ने गवा दिए हैं।

शुक्रवार को अपनी हार के बाद में विराट कोहली ने प्रेस को इस हार की असली वजह बताई है और कहा है कि इस सीरीज की हार ने की सबसे बड़ी वजह है बल्लेबाजी क्रम है। कोहली ने आगे बात करते हुए कहा कि है यह सीरीज काफी कठिन थी जो मेहनत करता है उसको उसका फल जरूर मिलता है और पहली हार के बाद में साउथ अफ्रीका ने अच्छे से मेहनत की है और आगे के दोनों मैच जीत लिए हैं।

हालांकि हमारी टीम ने भी अच्छे से मेहनत की है लेकिन कई जगहों पर उनकी एकाग्रता कम और उन्हीं का फायदा उठाते हुए साउथ अफ्रीका के खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया। वही बल्लेबाजी क्रम को दोषी ठहराते हुए कहां है कि हमारे बल्लेबाजों ने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की है और इसी की वजह से ही हम हारे हैं। इसके अलावा कोई भी बात करना अनुचित है।

विराट कोहली आगे कहते हैं कि उन्होंने हमारी कमियों का फायदा उठाते हुए अच्छा प्रदर्शन किया है और इसी वजह से उनको जीत हासिल हुई है हमें हमारे बल्लेबाजी क्रम में सुधार करने की जरूरत है। हमारी टीम के लिए इस तरह से ऑल आउट हो जाना कोई सही संकेत नहीं है इसलिए हम काफी निराश हैं। इस बार हमें उम्मीद थी कि हम साउथ अफ्रीका को उन्हीं की जमीन पर हराने में कामयाब होंगे लेकिन ऐसा नहीं हो पाया।

 

विराट कोहली ने केएल राहुल की तारीफ करते हुए कहा है कि उन्होंने काफी अच्छे से इस शरीर में प्रदर्शन किया है और इसीलिए वे तारीफ के हकदार भी है। ऋषभ पंत ने भी काफी तेज बल्लेबाजी करते हुए अच्छा प्रदर्शन किया है। साउथ अफ्रीका के गेंदबाजों ने काफी अच्छी गेंदबाजी की है और हमें बैकफुट पर धकेल दिया था। इस दौरान मयंक अग्रवाल थोड़े कमजोर दिखाई दिए हैं।

इस सीरीज से हमें कुछ सीखना चाहिए तथा पहला में इतनी अच्छी तरीके से जीतने के बाद हमने दोनों मैच गंवा दी है यह काफी निराशाजनक है। हम आगे इसमें सुधार करने को कोशिश करेंगे।