बिहार में शिक्षक बनने के इच्छुक बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर है। सातवें चरण की शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया अगले महीने यानी सितंबर 2022 से शुरू हो जाएगी। राज्य के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने इसकी घोषणा की है। उन्होंने कहा कि छठे चरण की शिक्षक बहाली की प्रक्रिया इस महीने के आखिर तक पूरी हो जाएगी। इसके बाद सातवें चरण की शिक्षक भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि मौजूदा चरण खत्म होने के बाद सभी जिलों से स्कूलों में रिक्त पड़े शिक्षकों के पदों की सूची मंगाई जाएगी। रिक्त पदों के आधार पर शिक्षक भर्ती की जाएगी। बता दें कि राज्य में माध्यमिक औ उच्च माध्यमिक शिक्षकों की छठे चरण की नियुक्ति प्रक्रिया इसी महीने पूरी होनी है। इस चरण में 37 हजार पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया चल रही है।

अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र बांटे जा रहे हैं। नियुक्ति पत्र वितरित होने के बाद जितने पद खाली रहेंगे, उसकी जानकारी जुटाई जाएगी। इसके साथ ही छठे चरण की प्रक्रिया के दौरान रिक्त हुए पदों की सूचना भी इकट्ठा की जाएगी। इन सूचनाओं का आधार पर अगले महीने से सातवें चरण की शिक्षक बहाली शुरू होगी।

सेंट्रालाइज्ड हो सकती है प्रक्रिया

बता दें कि सातवें चरण की शिक्षक बहाली की प्रक्रिया सेंट्रलाइज्ड हो सकती है। यानी कि अभ्यर्थियों को आवेदन जमा करने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। इसके लिए ऑनलाइन सुविधा दी जाएगी। शिक्षा विभाग के अधिकारियों की ओस से पूर्व में इस बारे में जानकारी दी गई थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.