अस्पताल को चुकाए 16 लाख रूपये, फिर भी 10 दिन में पति-सास-ससुर की कोरोना ने ले ली जान, पूरी कहानी जान रोंगटे खड़े हो जायेंगे

0
5

बेकाबू हो चला कोरोना अब तक लाखों जिंदगियां को लील कर चुकी है. इंदौर के एक परिवार को लेकर ऐसी ही हदयविदारक खबर सामने आई है जहां, पांच लोगों की इस परिवार में से तीन की कोरोना के चलते मौत हो गई. जबकि बाकी दो सदस्यों में से भी एक कोरोना संक्रमित है.

इंदौर के इस परिवार में माता-पिता, बेटा-बहू और एक पोता समेत इस पादरी परिवार में पांच सदस्य हुआ करते थे. परिवार के चार सदस्यों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई, इनमें से तीन की मौत हो चुकी है. दस दिनों के भीतर परिवार के मुखिया 86 वर्षीय पादरी ए जे सैमुअल, 83 वर्षीय उनकी पत्नी कुंजम्मा सैमुअल और बेटा जॉनसन सैमुअल की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई.

मार्च के अंत में परिवार हुआ पॉजिटिव

वहीं, कोरोना की वजह से जॉनसन की पत्नी शोबी जॉनसन आइसोलेटेड और उनका बेटा फिलोमन जॉनसन कोरोना संक्रमित है, जिसका इलाज चल रहा है. बताया जा रहा है कि मार्च के अंतिम सप्ताह में पादरी के बेटे जॉनसन सैमुअल का हल्का सा बुखार हो गया था, जिसे सामान्य सर्दी बुखार मानते हुए परिवार ने सामान्य दवा दिलवा दी. लेकिन 1 अप्रैल को जॉनसन की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई. इसके बाद परिवार के अन्य सदस्यों की भी कोविड जांच की गई, जिनमें 56 वर्षीय शोबी को छोड़कर बाकी तीनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई.

24 घंटे के अंदर मां-बेटे की मौत

बता दें कि तबीयत बिगड़ने के बाद 2 अप्रैल को जॉनसन, 3 अप्रैल को जॉनसन के पिता और 6 अप्रैल को मां को भर्ती कराया गया. तीनों के इलाज पर अच्छा खासा पैसा खर्च हुआ, लेकिन किसी को भी बचाया नहीं जा सका. 7 अप्रैल को पादरी ए जे सैमुअल, 16 अप्रैल को जॉनसन और 17 अप्रैल को जॉनसन की मां कुंजम्मा की मौत हो गई. शोबी 16 लाख से ज्यादा रुपये का अस्पताल का बिल चुकाकर भी अपनों को नहीं बचा पाई. बेटा संक्रमित है, जिसका इलाज चल रहा है और शोबी घर में आइसोलेट हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here