गृह मंत्री मेडल से सम्मानित होंगे बिहार तीन जांबाज पुलिसकर्मी, जानिए कौन हैं वो…

0
16

पटना: बिहार के तीन पुलिसकर्मियों का चयन केंद्रीय गृह मंत्री मेडल के लिए किया गया है. इनमें पुलिस अकादमी, राजगीर के हवलदार भोगेंद्र मिश्र और सीटीए नाथनगर के कांस्टेबल अनुरंजन कुमार व कांस्टेबल विपिन कुमार सिंह शामिल हैं.

गृह मंत्री मेडल की शुरुआत वर्ष 2018 में की गई थी. इसका उद्देश्‍य अपराध की जांच के उच्च प्रोफेशनल मानकों को बढ़ावा देना और जांच अधिकारियों द्वारा की गई जांच की उत्कृष्टता की पहचान करना है.

गृह मंत्रालय ने सीटीएस नाथनगर का चयन पूर्वी क्षेत्र के बेहतरीन संस्थानों में किया है.

पूर्वोत्तर भारत का सर्वश्रेष्ठ संस्थान 

गृह मंत्रालय ने अच्छे कार्यों के लिए पुरस्कार देने की शुरुआत की गई है ताकि संस्थाओं के बीच अच्छे कार्यों को लेकर प्रतिस्पर्धा का माहौल बने. इसी के तहत भागलपुर जिले के नाथनगर स्थित सिपाही प्रशिक्षण केंद्र को देश के पूर्वी क्षेत्र के बेहतरीन संस्थान के रूप में घोषित किया गया है. इस संस्थान को वर्ष 2016-17 सिपाहियों की भर्ती के बाद प्रशिक्षण के लिए, पूर्वी भारत के सर्वश्रेष्ठ संस्थान के रूप में पुरस्कार देने के लिए चयनित किया है. इसकी घोषणा 21 जनवरी को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने की.

केंद्रीय टाम ने किया था मूल्यांकन 

बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश पर तीन अधिकारियों की टीम पुलिस महानिरीक्षक के नेतृत्व में नाथनगर सिपाही प्रशिक्षण केंद्र पहुंची थी. इसमें पुलिस उप महानिरीक्षक केरल एवं पुलिस उप महानिरीक्षक तमिलनाडु शामिल थे. इस टीम ने 2019 में 27 से 29 नवंबर के बीच संस्थान का मूल्यांकन किया. मूल्यांकन में प्रशिक्षण के लिए उपलब्ध आधारभूत संरचना और प्रशिक्षण के मानक को शामिल किया गया. इस टीम की रिपोर्ट के आधार पर ही प्रशिक्षण केंद्र का चयन सर्वश्रेष्ठ संस्थान के रूप में किया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here