पंचायत चुनाव से पहले ही चुनाव आयोग ने मुखिया सरपंच को दिया तगड़ा झटका, जानें पूरी बात

0
34

पटनाः इस साल बिहार में पंचायत चुनाव होने हैं. ऐसे में चुनाव के ऐलान से पहले ही मुखिया और सरपंच को बड़ा झटका लगा है. राज्य चुनाव आयोग ने मतदान केंद्रों की सूची बनाने को लेकर अधिसूचना जारी की है. जिसमें स्पष्ट कहा गया है कि सभी मतदान केंद्र की सूची और निरीक्षण करने का जिम्मा बीडीओ का होगा.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

राज्य निर्वाचन आयोग के नोटिफिकेशन के मुताबिक अप्रैल और मई में पंचायत चुनाव करवाया जा सकता है. इससे पहले सभी जिले में अधिकृत अधिकारियों को मतदान केंद्र का जायजा लेना है. सभी अधिकारी मतदान केंद्र की लिस्ट जिला निर्वाचन पदाधिकारी को सौंपेंगे, जिसे आयोग की सहमति से प्रकाशित किया जायेगा.

ये भी पढ़ेंः नौकरी लगते ही ट्रेनी दारोगा ने गर्लफ्रेंड के साथ लिए 7 फेरे, स्टोरी जान सैल्यूट करेंगे

नोटिफिकेशन में यह भी बताया गया है कि वर्तमान मुखिया के घर से 100 मीटर की दूरी पर मतदान केंद्र नहीं बनाया जा सकता है. अगर ऐसा हुआ तो अधिकृत अधिकारी इसके जिम्मेदार होंगे. राज्य में कभी भी होली के बाद पंचायत इलेक्शन का ऐलान किया जा सकता है. बता दें कि सभी 8387 ग्राम पंचायतों में मतदाता सूची के ड्राफ्ट का प्रकाशन मंगलवार को किया जायेगा.

Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here