मुकेश अंबानी को इस मामले में टक्कर दे रहे बिहार के लाल राकेश पांडेय, जीता बड़ा खिताब

0
27

पटना: देश में इन दिनों किसान आंदोलन चल रहा हैं. ऐसे में महात्मा गांधी की कर्मभूमि पूर्वी चंपारण को लोग याद कर रहे हैं. वहीं, चंपारण इस बार कुछ एक प्रतिभा को लेकर चर्चा में है. अपने हुनर के दम पर पूरे विश्व में हिन्दुस्तान का नाम रौशन करने वाले राकेश पांडेय ने अपना झंडा पूरी दुनिया में गाड़ा है.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

बिहार के पूर्वी चंपारण के सरोत्तर गांव निवासी रिटायर्ड इंजीनियर श्रीकांत पांडेय के बेटे राकेश पांडेय ने दुनिया के नौ देशों में सफल व्यावसायिक दृष्टिकोण से हिंदुस्तान का झंडा बुलंद करने में अहम भूमिका निभाई है. ब्रावो फार्मा के चेयरमैन राकेश पांडेय दुनिया के नौ देशों में कैंसर, एचआईवी पर रिसर्च और दवा तैयार करते हैं.

ग्रेटेस्ट ब्रांड एंड लीडर्स में शामिल

राकेश पांडेय अब तक कई बड़े अवार्ड से सम्मानित किये जा चुके हैं. पटना में पिछले महीने “अटल सम्मान 2020 ” पाने वाले राकेश पांडेय और उनकी कंपनी ब्रावो फार्मा को एशिया वन मैगजीन ने एशिया और जीसीसी के ग्रेटेस्ट ब्रांड एंड लीडर्स 2020 में शामिल किया है.

कई हस्तियां है शामिल

ब्रावो फार्मा के चेयरमैन राकेश पांडेय का नाम ग्लोबल इंडियन ऑफ द ईयर में शामिल है, जिसमें मुकेश अंबानी, समीर मोदी, हरीश कोहली, मनीष साह, चंद्रशेखर वी, हिमांशु जैन, विक्रम राणा, पद्दम सिंह, रंजन महतानी, डॉ के. पांडेय, हितेश देसाई, बालकृष्ण, स्टोन सप्पफिरे, डॉ. जी एस मथारू, इंदु जैन, अदर पूनावाला, उदय कोटक जैसे बड़े व्यवसायी और महान हस्तियां शामिल हैं.

लंदन में रहते हैं राकेश

बता दें कि राकेश पांडेय को यह सम्मान ऊर्जावान व्यवसाय, तेजी से व्यावसायिक वृद्धि, बेहतर व्यवसाय करने की पहल, परोपकारी प्रयास, सामाजिक कार्य के लिए दिया गया है.

 

दरअसल, यह सम्मान एशिया वन मैगजीन ग्रेटेस्ट ब्रांड और लीडर्स को देती है, इसका चयन यूनाइडेट रिसर्च सर्विस इंटरनेशनल करता है. वहीं, लंदन में रह रहे राकेश ने इस अवार्ड के लिए चम्पारण वासियों को श्रेय दिया है. अक्सर अपने घर आने पर राकेश ठेठ बिहारी के रुप में रहना पसंद करते हैं. ताकि उन्हें अपने संघर्ष और जमीन से जुड़े रहने का एहसास भूलें नहीं.

v

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here