चुनावी साल में किसान आंदोलन से घबरायी मोदी सरकार, किया बड़ा ऐलान

0
14

नई दिल्लीः कोरोना काल में पहली बार देश में आम बजट पेश किया गया है. पूरे देश में चल रहे किसान आंदोलन से केंद्र की मोदी सरकार की मुश्किल बढ़ी हुई है. ऐसे में बजट में मोदी सरकीर ने किसानों पर फोकस किया है. किसानों की आय को दोगुना करने को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में बड़ा ऐलान किया है.

2021-22 का बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि उनकी सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने पर कायम है. बजट भाषण के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ”पीएम ने 80 मिलियन परिवारों को कई महीनों तक मुफ्त गैस मुहैया कराया, 40 मिलियन से अधिक किसानों, महिलाओं, गरीबों के लिए सीधे नकद राशि मुहैया कराई.”

कोरोना काल में अलग बजट

कोरोना काल की चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ”यह बजट ऐसी परिस्थितियों में तैयार किया गया है जो पहले कभी नहीं था. 2020 में हमने कोविड-19 के साथ क्या-क्या सहन किया उसका कोई उदाहरण नहीं.”

800 मिलियन लोगों तक पहुंचा मुफ्त खाद्यान 

केंद्र सरकार की तरफ से जनता तक पहुंचाये गए मदद को गिनाते हुए वित्त मंत्री ने कहा, ”प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2.76 लाख करोड़ रूपये की पीएम गरीब कल्याण योजना घोषित की, इसके साथ ही 800 मिलियन लोगों के लिए मुफ्त खाद्यान उपलब्ध कराया.”

कोरोना वैक्सीन के लिए 35 हजार करोड़

कोरोना संक्रमण समेत कई अन्य बीमारियों को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ”बीमारियों पर रोकथाम सरकार का सबसे बड़ा लक्ष्य है. देश में 15 हेल्थ इमरजेंसी सेंटर्स का गठन किया जाएगा. सरकार ने कोरोना टीकाकरण  लिए सरकार ने 35 हजार करोड़ रुपए दिए हैं. ये बजट आपदा में अवसर की तरह है.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here