ये बिहार है… यहां सफल अभ्यर्थी को नौकरी पाने के लिए थाली पिटनी पड़ती है, पढ़ लीजिए युवाओं का दर्द

0
30

पटनाः बिहार विधानसभा चुनाव में नौकरी सबसे बड़ा मुद्दा बनकर उभरा. इसे विपक्ष और सत्तापक्ष ने जमकर भुनाया. नीतीश कुमार ने सरकार का गठन करते ही सभी विभागों में खाली पदों को भरने का आदेश दिया. हालांकि, अब तक कई विभागों में सफल अभ्यर्थी पटना में ज्वाइनिंग के लिए पुलिस की लाठियां खा रहे हैं.

मंगलवार को बिहार राज्य शारीरिक शिक्षा अनुदेशक संघ ने राजधानी पटना के गर्दनीबाग में धरना दिया. साथ ही थाली पीट कर अपना विरोध जताया. बिहार राज्य शारीरिक शिक्षा अनुदेशक संघ के सफल अभ्यर्थी राणा प्रताप सिंह ने बताया कि सरकार कभी कोरोना कभी चुनाव आचार संहिता को लेकर ज्वाइनिंग टालती रही. लेकिन नई सरकार बनने के बाद भी अब तक नौकरी नहीं मिल पाई है.

ये भी पढ़ेंः PATNA में सचिवालय कर्मी के मौत से हड़कंप, पूरे महकमें में खलबली

बता दें कि दिसंबर 2019 में शारीरिक शिक्षक अनुदेशक के लिए परीक्षा ली गई थी. रिजल्ट फरवरी 2020 में आया जिसमें 3523 अभ्यर्थी सफल हुए. लेकिन इनकी बहाली अब तक नहीं हुई है.

सरकार द्वारा लगातार वार्ता के बाद पता चला कि इनके पद को कैबिनेट से स्वीकृति ही नहीं मिली है. वहीं संघ की मांग है कि सरकार जल्द से जल्द उनके पद को कैबिनेट से स्वीकृति दिला कर उनकी बहाली करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here