नेता प्रतिपक्ष पर श्रेयसी के पलटवार से हक्के-बक्के रह गए तेजस्वी, लेकिन विधानसभा अध्यक्ष ने दे डाली नसीहत

0
23

पटना: आज बिहार विधानसभा में कार्यवाही के दौरान जमुई से बीजेपी की नई नवेली विधायक श्रेयसी सिंह और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव युवाओं के मुद्दे पर एकदूसरे से उलझ पड़े. इस दौरान दोनों के बीच जमकर बहस हुई. तेजस्वी यादव के सवालों का जवाब देने के दौरान सदन में पहली बार बोलने के दौरान श्रेयसी को विधानसभा अध्यक्ष ने नसीहत भी दे डाली.

आज विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर सदन की दूसरी पाली चल रही थी. इस दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपनी बात रखते हुए खेल की स्थिति के बुरे हालात का जिक्र किया. इस दौरान कहा कि क्या सरकार नहीं चाहती कि बिहार के खिलाड़ी भी अपनी पहचान बना सकें. पिछले 15 वर्षों के दौरान राज्य सरकार ने ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की जिससे खेल और खिलाडियों को प्रोत्साहन मिल सके.

खेल के इंफ्रास्टक्चर पर सरकार को घेरा

अपनी बातों को सदन में रखने के दौरान तेजस्वी ने जमुई विधायक और अंतरराष्ट्रीय शूटर श्रेयसी सिंह का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि वह बताएं कि बिहार में कहीं भी अंतरराष्ट्रीय स्तर की शूटिंग रेंज है, जहां बिहार की प्रतिभाओं को उभरने का मौका मिल सके और वे गोल्ड मेडल जीत सकें!

तेजस्वी के आरोपों पर श्रेयसी का पलटवार

हालांकि, तेजस्वी के हमले का जवाब देने के लिए खुद श्रेयसी सिंह ने मोर्चा संभाल लिया. श्रेयसी सिंह ने तेजस्वी यादव को बीच में टोकते हुए कहा कि कल ही बजट में इस बात की घोषणा की गई है कि राजगीर में खेल विश्वविद्यालय शुरू किया जाएगा. श्रेयसी ने यह भी कहा कि जहां तक बिहार में शूटिंग रेंज शुरू करने की बात है तो इसके लिए कला और संस्कृति मंत्री आलोक रंजन से बात हुई है. उन्होंने इसका भरोसा दिया है कि बिहार में इसके लिए व्यवस्था की जाएगी. श्रेयसी सिंह ने हंसते हुए तेजस्वी से कहा कि आप चिंता न करें इसको हम देख लेंगे.

तेजस्वी की बैचमेट निकली श्रेयसी

वहीं, तेजस्वी यादव ने श्रेयसी सिंह को कहा कि आप हमारे साथ स्कूल में पढ़ी हैं. हमारी बैचमेट रहीं हैं. आप यहां पहुंच चुकी हैं लेकिन सरकार बताए कि सरकार ने बीते पंद्रह सालों में खेलकूद के क्षेत्र में क्या किया. जहां तक स्पोर्टस यूनिवर्सिटी की बात है तो वह महागठबंधन की सरकार (हमारे कार्यकाल) में तैयार की गई थी सिर्फ उसका नाम बदल दिया गया है.

विधानसभा अध्यक्ष ने बताया नियम
हालांकि, श्रेयसी ने तेजस्वी यादव के सवालों का जवाब बैठे-बैठे ही देना शुरू किया. इस पर विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने नाराजगी जाहिर की. विधानसभा अध्यक्ष ने उनसे कहा कि आप सदन की मर्यादा का पालन करें और जो कुछ कहना है, खड़े होकर कहें. दूसरी तरफ उन्होंने यह भी कहा कहा कि ये पहली बार सदन पहुंची इसलिए शायद इनको जानकारी नहीं थी. यहां के नियमों की और उन्हें जानकारी देना जरूरी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here