सियासी गहमागहमी के बीच उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश को दिया तगड़ा झटका

0
17

पटनाः बिहार की सियासत में कल से उथल-पुथल मची हुई थी. नीतीश कुमार के रालोसपा सुप्रीमों उपेंद्र कुशवाहा से मुलाकात के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि कुशवाहा की जेडीयू में घर वापसी होगी. हालांकि, अब यह साफ हो गया है कि कुशवाहा अपनी पार्टी का विलय जेडीयू में नहीं करने जा रहे हैं.

रालोसपा सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा ने स्पष्ट कर दिया है कि अखबारों एवं मीडिया चैनलों पर चल रही रालोसपा के विलय की खबरें गलत और बेबुनियाद है. बिहार व देश के लोगों एवं रालोसपा साथियों की आकांक्षाओं को ध्यान में रखते हुए पार्टी अपना संघर्ष जारी रखेगी. इसे रालोसपा के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया गया है जिसे उपेंद्र कुशवाहा ने री-ट्वीट किया है.

रविवार को हुई थी मुलाकात

दरअसल, सीएम नीतीश कुमार की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा से रविवार रात में मुलाकात हुई थी. दोनों नेताओं की मुलाकात के दौरान जेडीयू के सीनियर नेता वशिष्ठ नारायण सिंह भी मौजूद थे. वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि दोनों की मुलाकात अच्‍छी रही.

कुशवाहा का पार्टी विलय से इनकार

वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा था कि कुशवाहा कभी भी हमसे दूर नहीं रहे हैं. हां, बीच में राजनीतिक दूरियां भले ही हो गई थीं. उम्मीद है कि उनके (कुशवाहा ) आने से जेडीयू को मज़बूती मिलेगी. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि यह सब कब होगा इसके बारे में मुझे कुछ पता नहीं है, लेकिन नीतीश कुमार और कुशवाहा का मिलन स्वाभाविक है. हालांकि, कुशवाहा ने अब स्पष्ट कर दिया है कि वो अपनी पार्टी का जेडीयू में विलय नहीं करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here