होली की खुशी बदला मातम में, जहरीली शराब पीने से रोहतास में इतने लोगों की मौत

0
14

रोहतास:  बिहार में भले ही शराबबंदी हो लेकिन धड़ल्ले से अवैध शराब का कारोबार जारी है. इसके आड़ में नकली शराब की खेप भी बिहार में फहुंच रही है जिसकी वजह से लोगों को जान भी गंवानी पड़ रही है. ऐसे में रोहतास में जहरीली शराब ने कहर बरपाया है.

जिले में जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत तथा 2 लोगों के आंख की रोशनी चली जाने की बात सामने आई थी. लेकिन इस बार होली के मौके पर जहरीली शराब पीकर पांच अन्य लोगों की मौत की खबर सामने आई है. परिजन भी खुलकर कह रहे हैं कि उनके लोग शराब पीकर मरे हैं. वहीं दूसरी ओर शराब का मामला होने के कारण प्रशासन पूरे मामले से पल्ला झाड़ रही है.

3 दिनों में 5 की मौत

पहला मामला रोहतास जिला के कोचस का है जहां अलग-अलग गांव में पिछले 3 दिनों में 5 लोगो की मौत हो गई है.  जिला के कोचस थाना के चवरी गांव में राम अवतार राम की मौत हो गई. मृतक की पत्नी लखपति देवी ने बताया कि उसके पति शराब पीये थे. शराब पीने के बाद उनकी तबीयत बिगड़ी तो अस्पताल ले गए. जहां राम अवतार ने दम तोड़ दिया.

परिजन स्वीकार रहे शराब पीने की बात

दूसरी घटना कोचस के मनोज राम तथा विनोद चौहान के साथ घटी. परिजनों का कहना है कि मनोज तथा विनोद ने होली के दिन शराब पी थी, बाद में तबीयत बिगड़ी तो कोचस के एक निजी क्लीनिक में ले गए. जहां डॉक्टर भी दोनों को नहीं बचा पाए. मनोज की पत्नी लाली देवी तथा विनोद चौहान की भाभी मीना देवी ने दोनो के शराब किए जाने की बात स्वीकार की है.

ये भी पढ़ेंः होली खेलने के लिए घर से बुला कर ले गये युवक की दोस्तों ने ही कर दी हत्या, परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

वहीं, जहरीली शराब पीने से कंजर गांव में राजेश चौहान की भी मौत हो गई. राजेश गांव में ही कहीं से शराब पीकर घर आया तथा अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई. मृतक राजेश चौहान के रिश्तेदार चंदन चौहान ने भी शराब पीने की बात स्वीकारी है. ताजा मामला करगहर थाना क्षेत्र के रामपुर से आई है. जहां, आज गिरिजा शंकर सिंह के पुत्र सतीश कुमार सिंह की अचानक तबीयत बिगड़ने से मौत हुई है. मृतक के परिजन भी शराब पीने की बात स्वीकार रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here