मस्जिद से ऐलान कर आरोपियों ने भीड़ जुटा कर की थी किशनगंज टाउन थानाध्यक्ष की हत्‍या, पुलिस की कई सनसनीखेज खुलासे

0
19

पश्चिम बंगाल के पंतापाड़ा गांव में बीते नौ अप्रैल की रात छापेमारी के लिए किशनगंज थाने की पुलिस गई थी. इस दौरान पुलिस पर हमले के लिए मस्जिद से ऐलान किया गया था. मस्जिद से गांव में चोर और डाकू के प्रवेश करने की बात कह भीड़ जुटाई गई, फिर वर्दीधारी पुलिस पर हमला कर दिया गया.

किशनगंज पुलिस ने खुलासा करते हुए कहा है कि मस्जिद से ऐलान होते ही लाठी-डंडे व धारदार हथियारों से लैस सैकड़ों की संख्या में जुटी भीड़ पुलिस पर टूट पड़ी. इस हमले में बाकी पुलिस वाले किसी तरह जान बचाने में सफल रहे, लेकिन किशनगंज टाउन थानाध्यक्ष व इंस्पेक्‍टर अश्विनी कुमार को भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी.

ये भी पढ़ेंः देश में फिर लगेगा पूर्ण लॉकडाउन? कोरोना के बढ़ते केस के बीच अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्री की है यह राय

किशनगंज के एसपी कुमार आशीष और एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी ने इसकी पुष्‍ट‍ि की है. घटना के दिन ही शनिवार को बंगाल पुलिस ने मुख्य आरोपित फिरोज आलम, अबुजर आलम, सहीनुर खातुन को गिरफ्तार किया था. इनमें महिला मुख्‍य आरोपित की मां है. वहीं, पुलिस ने रविवार को मलिक उर्फ अबदुल मलिक और इसराईल को गिरफ्तार किया है. सभी गिरफ्तार आरोपित पंतापाड़ा गांव के रहने वाले हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here