कोरोना से वीआईपी की भी जा रही जान, सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज की मौत से सदमें में मुख्य न्यायाधीश

0
13

नई दिल्लीः देश में कोरोना का संक्रमण लगातार कहर ढाह रहा है. इसकी चपेट में आने से आम से लेकर वीआईपी तक की जान जा रही है. उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश एमवाई इकबाल की मौत कोरोना की ह से हो गई है. उनके निधन पर सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) एन वी रमण शोक जताया.

न्यायमूर्ति इकबाल (70) का निधन गुरुवार रात दिल्ली के एक निजी अस्पताल में हुआ. प्रधान न्यायाधीश की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सुनवाई शुरू होने से पहले पीठ ने कहा कि वह न्यायमूर्ति इकबाल के निधन की खबर से सदमे में हैं. पीठ ने कहा,’आज की कार्यवाही शुरू करने से पहले एक घोषणा करना चाहता हूं. बार एवं पीठ को यह बताते हुए बेहद दुख हो रहा है कि न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश एम वाई इकबाल का निधन हो गया है. बेहद दुखद खबर,दिवंगत आत्मा को शांति मिले.’

2012 में सुप्रीम कोर्ट में हुई थी नियुक्ति

न्यायमूर्ति इकबाल कई हाईकोर्ट में जज रह चुके हैं. मई 1996 में वह पटना उच्च न्यायालय के न्यायाधीश बने थे और बाद में 2000 में राज्य के विभाजन के बाद झारखंड के न्यायाधीश बने थे. 2010 में उन्हें मद्रास उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया था. न्यायमूर्ति इकबाल की दिसंबर 2012 में शीर्ष अदालत में नियुक्ति हुई थी. अपने करियर की शुरुआत 1975 में रांची से विधि पेशेवर के रूप में की थी.

जस्टिस इकबाल के बड़े फैसले

न्यायमूर्ति इकबाल उस पीठ के सदस्य थे,जिसने अपने फैसले में भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को सूचना का अधिकार (आरटीआई) अधिनियम के तहत पारदर्शिता कानून के दायरे में आने वाले बैंकों की जानकारी देने के लिए कहा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here