जेल से बाहर निकलते ही एक्शन में लालू यादव, पार्टी में उभरे मतभेद के बीच वर्चुअल मीटिंग में नेताओं को दे रहे क्लास

0
18

पटनाः आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव जेल से आने के बाद आज पहली बार दोपहर दो बजे वर्चुअल मीटिंग कर राजनीति में फिर से एंट्री की. जेल में रहने के दौरन भी उनका आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट एक्टि था. लालू पहली बार वर्चुअल मीटिंग में आरजेडी के विधायक, विधान पार्षदों के साथ साथ पिछले विधानसभा चुनाव के प्रत्याशियों से रू-ब-रू होरहे हैं.

इस बैठक में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के साथ आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह भी मौजूद हैं. प्रदेश अध्यक्ष पार्टी से जुड़े लोगों को सही समय से शामिल होने का निर्देश जारी किया था. इसमें सभी विधायक-विधान पार्षदों के साथ साथ पिछले चुनाव में प्रत्याशी रहे नेताओं को निर्देश जारी किया गया था. बताया जा रहा है कि यह कोई सियासी बैठक नहीं है. बल्कि कोरोना महामारी के वक्त पार्टी के नेता लोगों की मदद करें इस पर दिशा निर्देश दिया जायेगा.

लालू की मीटिंग पर सुमो ने उठाया था सवाल

बता दें कि इस बैठक को लेकर कई दिनों पहले ही घोषणा हो चुकी थी जिस पर ट्वीट कर लालू प्रसाद यादव को घेरने की कोशिश भी की थी. सुशील मोदी ने ट्वीट कर लिखा था “चारा घोटाला में सजायाफ्ता लालू प्रसाद को जमानत पर छोड़ने के लिए आधी सजा काटने से लेकर गंभीर बीमारियों से पीड़ित होने तक, कई दलीलें दी गईं थीं, लेकिन जमानत मिलते ही वे अपना राजनीतिक कार्यक्रम घोषित कर रहे हैं. अब पार्टी उनकी बीमारियों को भुला चुकी है.”

ये भी पढ़ेंः शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा से बाहुबली विधायक रीतलाल यादव ने की मुलाकात, पर अब तक नहीं पहुंचा लालू परिवार से कोई…

बता दें कि इन दिनों आरजेडी और लालू परिवार विरोधियों के साथ-साथ शहाबुद्दीन समर्थकों से घिरी हुई है. पूर्व बाहुबली के पार्थिव शरीर को बिहार में दफनाने के लिए विफल रहने, तेजस्वी यादव के दिल्ली में रहने के बावजूद 5 किलोमीटर के अंदर सुपूर्द-ए-खाक में नहीं जाने से समर्थक भड़के हुए हैं. हालांकि, लालू परिवार की तरफ से डैमेज कंट्रोल की कोशिश जारी है. आज तेजस्वी के करीबी विधायक बाहुबली रितलाल यादव सिवान जाकर ओसामा से मुलाकात भी की. वहीं, इस बैठक में इस पर भी चर्चा हो सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here