किसानों के लिए काल बनकर आया ‘यास’ तूफान, पानी में डूब गया खेतों में तैयार लाखों-लाख का प्याज

0
33

पटना: ‘यास’ तूफान की वजह से बिहार के कई जिलों में 26 मई से रुक-रुककर बारिश हो रही है. बारिश की वजह से आम लोग परेशान हैं. वहीं, किसान भी बदहाली के आंसू रो रहे हैं. बिहार की राजधानी पटना से सटा खुसरूपुर प्रखंड जो सब्जी की खेती के प्रसिद्ध माना जाता है, वहां के किसान लाखों का प्याज बर्बाद हो जाने की वजह से परेशान हैं. प्याज के साथ ही तैयार हरी सब्जियां भी बारिश के पानी में डूब चुकी हैं.

इसके अलावा दनियावां प्रखंड में भी किसान भारी मात्रा में प्याज की खेती करते हैं. जिनकी प्याज डूबने से सारी जमापूंजी भी साथ में ही चली गई है. किसानों की मानें तो प्याज तैयार हो चुका था, वे उसे उखाड़ने की तैयारी में ही थे. लेकिन भारी बारिश की वजह से और पूंजी दोनों बर्बाद हो गई. पानी तैयार प्याज का दुश्मन होता है. पानी के संपर्क में आने से मात्र से प्याज सड़ जाता है. लेकिन यहां तो प्याज पूरा ही पानी में डूब चुका है.

किसानों ने लगाई मदद की गुहार

किसानों की मानें तो एकड़ में लगे प्याज से लगभग दो लाख रुपये आने की संभावना थी. लेकिन अब उका सब कुछ लुट गया है. ऐसे में किसानों ने सरकार से मदद की गुहार लगाई है. वहीं, किसानों के बदहाली का मामला संज्ञान में आने के पटना के डीएम डॉ.चंद्रशेखर सिंह शनिवार को खुद खुसरूपुर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया.

ये भी पढ़ेंः यास तूफान से बिहार में अब तक इतने लोगों ने गवाई जान, सीएम नीतीश ने की खास अपील

जायजा लेने के बाद डीएम ने कहा कि जिला कृषि पदाधिकारी समेत जिले के सभी प्रखंड स्तरीय कृषि पदाधिकारी को सर्वेक्षण का निर्देश दिया गया है. फसल क्षति के सर्वेक्षण के आधार पर जल्द ही किसानों को फसल क्षति का उचित मुआवजा दिया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here