बाहुबली शहाबुद्दीन का खास रहा कुख्यात बाबर मियां का दिन दहाड़े मर्डर, मची सनसनी

0
35

सिवानः बाहुबली शहाबुद्दीन के देहांत के बाद सान में गैंगवार शुरू हो गया है. बाहुबली के समर्थकों को अब निशाना बनाया जा रहा है.  दिनदहाड़े सिवान में कुख्यात गैंगस्टर बाबर मियां को एक गैंगवॉर में मौत के घाट उतार दिया गया है. गोलियों की तड़तड़ाहट से इलाका थर्रा उठा. इससे पहले भगदड़ मची और उसके बाद जब सन्नाटा छाया तो गोलियों से छलनी बाबर मियां की लाश पड़ी थी.

पुलिस को मौका ए वारदात से न तो कोई चश्मदीद गवाह हाथ लगा और न ही कोई खास सबूत या सुराग. बताया जा रहा है कि पुलिस मामले में तफ्तीश के लिए कॉल डिटेल्स खंगाल रही है. सराय थाना क्षेत्र में सरेआम सड़क पर गोलीबारी में बाबर अली उर्फ बाबर मियां को मार डाला गया. करीब 10 सालों से ज़मीन और प्रॉपर्टी के कारोबार में लगा हुआ बाबर कुख्यात अपराधी रहा है, जिसके खिलाफ कई आपराधिक केस चल रहे थे.

रास्त में ही घेर कर हुई हत्या

बताया जा रहा है कि बाबर मियां उर्फ बाबर अली शनिवार को निजी काम से सराय थाना क्षेत्र में बाइपास रोड से जा रहा था. तभी, बाइक सवार कुछ लोगों ने उसे जरती माई मंदिर के पास घेर लिया. देखते ही देखते ताबड़तोड़ गोलियां चलने लगीं, जिसमें बाबर की जान गई. पुलिस का अंदाज़ा है कि उसे करीब से गोली मारी गई. लेकिन, पुलिस को कोई खाली कारतूस तक न मिलने की खबरें हैं. वहीं,  बाबर का सेलफोन मौके से गायब था. परिवार से बाबर का मोबाइल नंबर पता लगाकर पुलिस कॉल डिटेल रिकॉर्ड जुटाने की कोशिश कर रही है.

gun

ये भी पढ़ेः शहाबुद्दीन की तरह सता रहा कोरोना से मौत का डर! बाहुबली आनंद मोहन की रिहाई के सोशल मीडिया में चल रहा जोरदार कैंपेन

पुलिस का कहना है कि बाबर के खिलाफ सिवान के कई थानों में कम से कम दो दर्जन गंभीर क्रिमिनल केस हैं. रिकॉर्ड्स बताते हैं कि बाबर के खिलाफ सिर्फ मुफस्सिल थाने में ही 19 मामले हैं. पिछले महीने ही एक अपहरण के मामले में पुलिस उसे तलाश रही थी, जबकि अगवा किए गए पीड़ित की लाश अब तक नहीं मिली. बाबर एक वक्त सिवान के दिवंगत पूर्व सांसद और बाहुबली डॉन शहाबुद्दीन का खास रहा था. पुलिस भी बता चुकी है कि बाबर मियां ने एक बार शहाबुद्दीन के लिए भी काम किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here