पूरे धूमधाम से मालिक ने निकाला कुत्ते का शवयात्रा, तेरहवीं का भोज और टोनी की याद में बनेगा स्मारक

0
25

ये इंसान और पालतू जानवर के बेमिसाल प्रेम की कहानी से ओतप्रोत है. ऐसा लग रहा है जैसे जैकी श्राफ की तेरी मेहरबानियां फिल्म का सीन हो. लेकिन ये कहानी फिल्मी नहीं बल्कि रियलिटी है. एक कुत्ते के लिये इतना प्रेम. जी हां, हम बात कर रहे हैं बिहार के समस्तीपुर के शेरपुर दियारा की. जहां एक कुत्ते के मालिक ने अपने कुत्ते का अंतिम संस्कार इंसानों जैसा किया.

इसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गई. तस्वीर देखने के साथ ही सहसा ये एहसास हुआ कि किस्मत से बड़ी चीज दुनिया में कुछ नहीं. याद करिये अभी पूरा देश इंसानों के शवों को कुत्ते की तरह गंगा के किनारे दबा दिये जाने और फेंक दिये जाने को लेकर आंसू बहा रहा है तो दूसरी तरफ एक कुत्ते का अंतिम संस्कार इंसानों की तरह हो रहा है.

हिंदू रीति रिवाज से उसका अंतिम संस्कार

समस्तीपुर के विद्यापतिनगर प्रखंड की शेरपुर ढेपुरा पंचायत के शेरपुर दियारा गांव में एक कुत्ते की शव यात्रा पूरे धूम धड़ाके से निकली. नरेश साह ने मंगलवार को अपने कुत्ते की शव यात्रा निकाली और पूरे हिंदू रीति रिवाज से उसका अंतिम संस्कार किया. उसके शव को स्नान करा कर ऐसा सजाया गया था जैसे कोई इंसान हो. जिसने भी ये नजारा देखा वो भावविभोर हो गया. उसने अपने कत्ते की शवयात्रा पूरे धूमधाम से बैंड बाजे के साथ निकाली.

ये भी पढ़ेंः कुत्ते की मौत पर रो पड़े पूरे गांव के लोग, मालिक ने गाजे-बाजे के साथ किया अंतिम संस्कार

नरेश साह बारह साल पहले इस कुत्ते को सोनपुर मेला से लेकर आये थे और उसका नाम टोनी रखा था. विदेशी नस्ल के इस कुत्ते से अड़ोसी पड़ोसी भी बहुत प्यार करते थे. सबको वह बहुत प्यारा था. आज सभी लोगों ने उसकी अंतिम शवयात्रा धूमधाम से निकालने का निश्चय किया. उन्होंने बताया कि टोनी को नदी किनारे दफनाया गया है और अब उस जगह पर टोनी की याद में स्मारक बनाया जायेगा. हिंदू रीति रिवाज से उसका श्रादध कर्म करेंगे. तेरहवीं का भोज किया जायेगा. कुत्ते की शवयात्रा के दौरान उसके शव को फूल मालाओं से लाद दिया गया था. शव यात्रा तेरी मेहरबानियां फिल्म के गाने के साथ निकाली गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here