तेजस्वी यादव और पशुपति पारस हैं लापता! जगह-जगह लगे पोस्टर, खोजने पर मिलेगा इतना इनाम

0
38

कोरोना की दूसरी लहर में आम से लेकर खास लोग भी परेशान हैं. इस हालात में जहां लोगों को बेड नहीं मिल रहा. अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी और दवाओं की कालाबाजारी हो रही है. लेकिन इस हालात  अपने विधायक एमपी से मदद नहीं मिलने से जनता का जगह-जगह गुस्सा फुट रहा है. इसके शिकार राघोपुर विधायक सह नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और हाजीपुर सांसद को होना पड़ा है.

पिछले दिनों हाजीपुर के सांसद और लोजपा नेता पशुपति पारस औऱ राघोपुर के विधायक के अपने क्षेत्र में नहीं रहने के कारण कई पंचायतों में लोगों ने लापता होने का पोस्टर लगाकर विरोध जताया. पोस्टर में लिखा गया है कि चुनाव जीतने के बाद दोनों माननीय अपने-अपने क्षेत्र से लापता हैं. कोरोनाकाल में भी इन लोगों को क्षेत्र की जनता का हाल-चाल पूछने की चिंता नहीं है. इन लोगों को यहां की जनता खोज रही है, जिन भाइयों को यह दोनों माननीय मिल जाए उन्हें 5100 रुपए इनाम दिया जाएगा.

पोस्टर चिपकाने पर सियासत

स्थानीय लोगों द्वारा चिपकाये गए पोस्टर के बाद सियासत शुरू हो गई है. विधानसभा क्षेत्र में तेजस्वी के पोस्टर चिपकाये जाने पर आरजेडी ने सफाई दी है. आरजेडी ने इसे विरोधियों की साजिश बताई है. आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी का कहना है कि तेजस्वी यादव के कहने पर सभी विधायक मदद के लिए जुटे हुए हैं. तेजस्वी अपने क्षेत्र के सभी लोगों का ख्याल रखे हुए हैं. हर कमी को पूरा कर रहे हैं.

ये भी पढ़ेः ‘बाहुबली पप्पू यादव ने मुझे किडनैप कर लिया था’, अर्णब गोस्वामी का वीडियो हो रहा वायरल

दूसरी तरफ आपदा के दौरान बार-बार गायब रहने की वजह से बीजेपी ने फिर से तेजस्वी को निशाने पर लिया है. बीजेपी प्रवक्ता राम सागर सिंह का कहना है कि जब भी बिहार में समस्या आती है, तेजस्वी यादव गायब हो जाते हैं ये नई बात नहीं है. तेजस्वी सिर्फ ट्वीट करना जानते हैं. उन्हें अपने क्षेत्र के लोगों को कोई फिक्र नहीं है. यही कारण है कि ऐसे संवेदनशील मौके पर भी वो जनता से दूर हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here