सरसों तेल के बाद दाल हुआ सस्ता, जानें कितने गिरे उड़द, चना और अरहर के भाव

0
27

खुशखबरी! सस्ती हो गईं दालें, जानें कितने गिरे उड़द, चना और अरहर के भाव? : नई दिल्ली: आम जनता के लिए राहत की खबर है. लगातार बढ़ रही महंगाई के बीच दालों की कीमतों (Price of pulses) में गिरावट देखने को मिली है. सबसे ज्यादा गिरावट उड़द और चने की दाल (Chana prices) की कीमतों में देखने को मिली है. अप्रैल महीने में चने दाल की कीमतों में रिकॉर्ड लेवल से 20 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है. इसके अलावा उड़द (काली मटके) (urad price) की कीमतों में 20 फीसदी से अधिक की गिरावट आई है.

आपको बता दें कोरोना महामारी में मांग में कमी आने की वजह से दालों की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है. हाजिर चना की कीमतें एमएसपी के स्तर पर 5,100 रुपये प्रति क्विंटल से नीचे आ गई हैं. मध्य प्रदेश और राजस्थान के बाजारों में मॉडल की कीमतें (Modal prices) वर्तमान में 4,600 रुपये और 4,900 रुपये के बीच हैं.

सूत्रों के मुताबिक, निकट अवधि में चने की कीमतों पर दबाव बने रहने की संभावना है और कोविड की तीसरी लहर की संभावित गिरावट और त्योहारी सीजन से पहले मांग से कीमतों में और तेजी आने की संभावना है.

भारतीय दलहन और अनाज संघ के अध्यक्ष जीतू भेड़ा ने कहा, कोविड के कारण मांग में गिरावट के अलावा, नाफेड ने स्थानीय बाजार में चना बेचना शुरू कर दिया है, जिससे कीमतों में गिरावट आई है. उन्होंने कहा कि इन सभी कारकों ने बाजार में खलबली मचा दी है.

15 मई से उड़द (काली मटके) की कीमतों में भी 20 फीसदी से अधिक की गिरावट आई है. चेन्नई के एक दाल आयातक ने कहा, “जब केंद्र ने घोषणा की कि खुले सामान्य लाइसेंस के तहत दालों के आयात की अनुमति दी जाएगी, तो चेन्नई में उड़द की कीमतें 86,000 रुपये से तुरंत 12,000 रुपये प्रति टन गिर गईं.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here