पटना: हार्डिंग पार्क की जमीन पर नया स्‍टेशन बनने का रास्‍ता साफ

0
48
Patna Harding park railway station

पटना जंक्शन से सटे हार्डिंग पार्क की जमीन पर रेलवे की ओर से अलग स्टेशन बनेगा। बड़े शहरों की तर्ज पर अब पटना से आने जाने वाली सवारी गाड़ियों के लिए अलग से स्टेशन बनने से पैसेंजर ट्रेनों के परिचालन में जबर्दस्त सुधार आएगा। रेलवे की ओर से हार्डिग पार्क की जमीन राज्य सरकार से मांगी जाने के बाद अब न्यायालय से भी हरी झंडी मिल गई है। सीपीआरओ राजेश कुमार ने बताया कि राज्य सरकार से जमीन हस्तांतरण की कार्रवाई पूरी होते ही स्टेशन का निर्माण शुरू होगा।

रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार पटना में भी अब मुंबई, चैन्नै और हावड़ा की तर्ज पर पैसेंजर गाड़ियों के लिए सब अर्बन स्टेशन बनाया जाएगा। सब अर्बन स्टेशन के निर्माण से पटना जंक्शन का लोड काफी कम हो जाएगा। सामान्य परिचालन की स्थिति में पटना जंक्शन से आने जाने वाली 50 से अधिक सवारी गाड़ियां हार्डिंग पार्क में प्रस्तावित टर्मिनल से खुलेंगी। रेल अधिकारियों की मानें तो रेलवे की ओर से हार्डिंग पार्क की जमीन के बदले पटना घाट की 18.5 एकड़ जमीन राज्य सरकार को पहले ही दे दी गई है। रेलवे की ओर से बिहटा एयरपोर्ट से दानापुर स्टेशन तक एलिवेटेड रोड के लिए भी जमीन दी गई है। इसके बदले में हार्डिग पार्क की 4.6 एकड़ जमीन राज्य सरकार से मांगी गई है जहां कि हार्डिंग पार्क टर्मिनल बनाने का रेलवे की योजना है।

बनेंगे चार प्लेटफॉर्म

प्रस्तावित स्टेशन पर लोकल ट्रेनों के लिए सिंगल लाइन वाले चार प्लेटफॉर्म बनाए जाएंगे। यहां अप में दो और डाउन में दो सवारी गाड़ियां एक साथ खड़ी हो सकेंगी। सिंगल लाइन होने के कारण दोनों तरफ प्लेटफॉर्म पर यात्री उतर सकेंगे। साथ ही मेमू ट्रेनों के चलाने में इंजन बदलने की आवश्यकता नहीं होने से सिंगल लाइन से भी आसानी से परिचालन होगा। नए स्टेशन के बन जाने से पटना जंक्शन से केवल गया के लिए सवारी गाड़ियों का परिचालन होगा।

इन जगहों के लिए नए स्टेशन से खुलेंगी गाड़ियां

पटना जंक्शन की मेन लाइन से खुलने वाली अधिकतर गाड़ियां हार्डिंग पार्क स्टेशन से खुलेंगी। जानकारी के अनुसार मेन लाइन के पटना-झाझा, पटना-राजगीर, पटना-इस्लामपुर, पटना-बक्सर-पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, पटना-हाजीपुर रेलखंड पर चलने वाली सवारी गाड़ियां हार्डिग पार्क से खुलने लगेंगी। इससे पटना जंक्शन को मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए चार अतिरिक्त प्लेटफॉर्म भी मिल जाएंगे। वहीं, मेल एक्सप्रेस के ट्रेनों को भी पटना जंक्शन पहुंचने में आउटर पर इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here