राबड़ी आवास से अपमान का घूंट पीकर निकले तेजप्रताप, तेजस्वी ने भी कह दिया?

0
23

तेजस्वी के रणनीतिकार ने मिलने से रोका, दोनों भाइयों के बीच दरार बढ़ी; गुस्साए तेजप्रताप ने कहा- होते कौन हैं रोकने वाले?

दैनिक भास्कर के अनुसार: RJD में मचे घमासान के बीच शुक्रवार की दोपहर तेजप्रताप यादव अपने छोटे भाई और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से मिलने के लिए राबड़ी आवास पहुंचे। तमतमाया चेहरा लेकर बाहर निकले तेजप्रताप की बातों से साफ हुआ कि राबड़ी आवास में उन्हें अपमान झेलना पड़ा। वे करीब 20 मिनट बाद ही गुस्से में गेट से बाहर निकल आए। उन्होंने आरोप लगाया कि तेजस्वी से मेरी बात हो रही थी तभी संजय यादव वहां पहुंचे और मुझे रोक दिया। संजय यादव तेजस्वी को लेकर कमरे के अंदर चले गए। तेज प्रताप ने कहा कि संजय यादव होते कौन हैं बीच में बोलने वाले और रोकने वाले?

जनता दरबार लगाने से भी कोई रोक लेगा क्या?
इससे पहले तेज प्रताप यादव ने कहा कि वे पार्टी कार्यालय में जनता दरबार लगाएंगे। जनता दरबार लगाने से मुझे कोई रोक लेगा क्या? तेज प्रताप ने आगे कहा कि उन्होंने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में जो बातें रखीं उस पर अभी भी कायम हैं। जगदानंद सिंह से गतिरोध के सवाल पर उन्होंने कहा कि कौन क्या कर रहा है, उससे उन्हें मतलब नहीं है। मुझे बिहार की जनता से मतलब है।

देखें वीडियो:

 

हरियाणा के संजय यादव पर पहले भी आरोप लगा चुके हैं तेजप्रताप

तेजप्रताप यादव ने कहा कि मैंने शुरू से अपने अर्जुन तेजस्वी यादव को आशीर्वाद दिया है। उनको मुख्यमंत्री बनाना है, लेकिन मुख्यमंत्री बनाने में कुछ लोग अड़चन पैदा कर रहे हैं। वैसे लोगों का सफाया करना है। बता दें कि संजय यादव, तेजस्वी यादव के रणनीतिकार हैं और पुराने मित्र हैं। हरियाणा के संजय यादव पर पहले भी तेज प्रताप यादव आरोप लगा चुके हैं कि प्रवासी सलाहकार के इशारे पर कार्रवाई हो रही है। यह भी कह चुके हैं कि संजय यादव, तेजस्वी को बार-बार दिल्ली लेकर चले जाते हैं।

लगा विवाद थम जाएगा लेकिन नया विवाद शुरू

बता दें कि तेज प्रताप यादव ने गुरुवार की शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस स्पष्ट कर दिया था वे पार्टी के किसी भी कार्यक्रम में तभी शामिल होंगे जब प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। तेज प्रताप ने कहा था कि लालू जी से मिलेंगे, लेकिन उससे पहले तेजस्वी से मुलाकात करेंगे। तेज प्रताप यादव शुक्रवार दोपहर तेजस्वी यादव के आवास पर पहुंचे तो यह लग रहा था कि अब कई दिनों से चल रहा विवाद थम जाएगा, लेकिन अब एक नया विवाद RJD में शुरू हो गया है।

स्पष्ट है लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव, जगदानंद सिंह के साथ

दोनों भाइयों के बीच दरार बढ़ती जा रही है। अब तक लालू प्रसाद ने भी किसी तरह का हस्तक्षेप नहीं किया है। स्पष्ट है कि लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव जगदानंद सिंह का ही पक्ष ले रहे हैं। तेजप्रताप यादव का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। वे जब राबड़ी आवास से बेरंग लौट रहे थे तो चेहरा तमतमाया हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here