भागलपुर में यहाँ बनेगा वाटर पार्क और ग्लास ओवरब्रिज, 166.09 करोड़ हुआ फंड पास

0
50

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत भागलपुर में वाटर पार्क और ग्लास ओवरब्रिज का निर्माण कराया जाएगा। मालूम ही की भागलपुर साहेबगंज स्थित भैरव तालाब को सुंदरिकरण करने को मंज़ूरी मिल गई है। इसके लिए विगत सोमवार को बोली लगाने के लिए बिड खोल दिया गया।

योगी कंस्ट्रक्शन कंपनी को न्यूनतम दर के आधार पर कार्य दिया गया है। अब स्मार्ट सिटी बोर्ड आफ डायरेक्टर की बैठक के बाद कंपनी को कार्य शुरू करने की स्वीकृति दी जाएगी। भैरवा तालाब को 166.09 करोड़ की लागत से सुंदरीकरण व वाटर पार्क के तौर विकसित किया जाएगा।

अब तालाब के अंदर एक्वेरियम, पानी के बीच झरना व वाटर शो के साथ वोङ्क्षटग का भी लोग आनंद ले सकेंगे। करीब 15.60 एकड़ क्षेत्र में फैले तालाब में वाटर स्पोटर्स की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी। तालाब परिसर के आठ एकड़ जमीन में बच्चे और बुजुर्गों के लिए विशेष तौर पर पार्क बनाया जाएगा। वाटर पार्क बनाने में स्मार्ट सिटी योजना से 35 तरह के काम कराए जाएंगे। इस कार्य को 21 माह में कंपनी को पूरा करना होगा। साथ ही पांच साल तक रख-रखाव भी करना होगा।

सबको को मिलेगी सुविधा

आप तालाब में एक्वेरियम में मछली प्रदर्शनी को देख सकेंगे। वहीं आकर्षण का केंद्र एक सिरे से दूसरे सिरे को जोडऩे वाला ग्लास ओवरब्रिज बनेगा। प्रवेश द्वार पर मूर्तिकला द्वार, आउटडोर खेलकूद उपकरण स्थापित किया जाएगा।

सुरक्षा आधारित उपकरण, सीसीटीवी कैमरे की स्थापना, अग्निशमन प्रणाली, इमरजेंसी लाइट और प्रकाशित साइनेट, वाटर स्पोट््र्स फैसिलिटी, ट््वाय ट्रेन, ऑक्यूपेंसी सेंसर समेत लाइटिंग ऑटोमेशन, भैरवा परिसर में विद्युतीकरण कार्य और भैरवा परिसर में पलंब‍िंंग कार्य कराया जाएगा। यहां छठ घाट का निर्माण के अलावा लोगों के बैठने की सुविधा होगी। शेड एवेन्यू, सायल माउंट रेस्टोरेंट, स्ट्राम वाटर ड्रेन और जल निकासी प्रणाली पर कार्य होगा।

तालाब में वाटर पार्क के साथ बच्चों के प्ले एरिया में सरप्राइज फाउंटेन की स्थापना, बच्चों के लिए खेल का मैदान, सेमी ओपन कैफे की सुविधा होगी। पूरे परिसर को समतल किया जाएगा। वर्तमान संरचना और घाट को तोड़ा जाएगा। साथ चारदीवारी निर्माण आपातकालीन द्वार, प्रवेश व निकास के लिए अलग-अलग द्वार होगा। सड़क के दोनों ओर फुटपाथ बनाना (उत्तर की ओर), दुपहिया और चारपहिया वाहनों यानी, टैक्सी, आटो और बसों के लिए पार्किंग की सुविधा होगी। टायलेट और पब्लिक यूटिलिटी, सेप्टिक टैंक का भी निर्माण होगा।

तीन कंपनियां तकनीकी बिड में हुई सफल

भागलपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड की निविदा में तीन बड़ी कंपनियां शामिल हुईं, जिसमें गुजरात की वेलजी स्वराष्ट्र रत्ना, यूपी की योगी कंस्ट्रक्शन व आंध्रप्रदेश की आरएमएन इंफ्रास्ट्रक्चर तकनीकी बिड में सफल हुई है। इसमें योगी कंस्ट्रक्शन ने गुजरात में रिवर फ्रंट व अहमदाबाद में एयरपोर्ट का निर्माण किया है। इन तीनों कंपनी में योगी कंस्ट्रक्शन को काम मिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here