पटना. बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मी चरम पर है. तो वहीं, कई पार्टी के नेताओं का दल बदलने का सिलसिला लगातार जारी है. लेकिन दूसरे दल से सत्ताधारी पार्टी जेडीयू में आने वाले नेताओं को टिकट मिलने पर पार्टी के अंदर ही बवाल शुरू हो गया है.

कांग्रेस से जेडीयू में शामिल हुए सुदर्शन कुमार ने शेखपुरा के बरबीघा विधानसभा सीट से नामांकन दाखिल किया. जिसके चलते जेडीयू कार्यकर्ता नाराज हो गए और एक साथ कई जेडीयू नेताओं ने इस्तीफा दे दिया.

जेडीयू बरबीघा विधानसभा के प्रभारी डॉ. राकेश रंजन ने बताया कि कांग्रेसी विधायक रहते हुए सुदर्शन कुमार के द्वारा पार्टी के कार्यकर्ताओं की शुरुआत के दिनों में ही उपेक्षा की गई.

पिछड़े और अति पिछड़ी जाति वाले गांव में विकास के काम नहीं किए गए. साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस छोड़कर जेडीयू में आने वाले विधायक को टिकट दिया जाना पार्टी के कार्यकर्ताओं का अपमान है.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

कई नेताओं ने दिया इस्तीफा
वहीं, इस फैसले से नाराज डॉ. राकेश रंजन के साथ विधानसभा के दो दर्जन पार्टी से जुड़े नेताओं ने इस्तीफा दे दिया, जिसमें कई प्रकोष्ठ के नेता भी शामिल हैं. जेडीयू जिला अध्यक्ष अंजनी कुमार ने बताया कि राकेश रंजन के इस्तीफे की सूचना उन्हें सोशल मीडिया के माध्यम से मिली है.

ये भी पढ़ें.एक-एक कर बीजेपी विधायक तोड़ रहे चिराग पासवान, नीतीश की बढ़ी मुश्किल

नामांकन के लिए बचे हैं मात्र 2 दिन
पहले चरण के चुनाव में नामांकन के लिए महज 2 दिन बचे हैं, लेकिन शेखपुरा में अब तक 3 प्रत्याशियों ने ही नामांकन दाखिल किया है.

जेडीयू के शेखपुरा विधानसभा से विधायक रणधीर कुमार सोनी का नामांकन सोमवार को ही हो गया. तो वहीं मंगलवार को डॉक्टर राकेश के साथ-साथ बरबीघा विधानसभा से निर्दलीय प्रत्याशी दीपक शर्मा ने नामांकन कराया है.
Get Today’s City News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *