अररियाः जिले के पलासी के कवैया गांव में एक ही घर में खेल रहे 6 बच्चों की आग में जलने से मौत हो गई. सभी बच्चों की उम्र ढाई से 5 साल बताई जा रही है. बच्चे एक कमरे में मक्के के भुट्‌टे सेंक रहे थे. वहीं, बगल में ही मवेशियों का सूखा चारा में चिंगारी से आग लग गई और बच्चे उसमें घिर गए.

जब तक बच्चों की चीख सुनकर परिवार वाले मौके पर पहुंचे, तब तक काफी देर हो चुकी थी. मृत बच्चों की पहचान अफसर (5), गुलनाज (2.5), दिलबर (4), बरकस (3), अली हसन (4) और खुशनेहा (2.5) के रूप में हुई है. लोगों ने बतया कि आग इतनी तेज थी कि लोगों को पता भी नहीं चल पाया कि अंदर कितने बच्चे हैं. आग बुझाने के बाद इस बात की जानकारी हो पाई. जब बच्चों को बाहर निकाला गया, तब सभी बच्चे झुलस चुके थे.

घटनास्थल पर पहुंची फायर बिग्रेड

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जिस कमरे में बच्चे मौजूद थे, वहां पास में ही पुआल (एक तरह की सूखी घास) रखा हुआ था. आग लगने के बाद गांव के लोगों ने किसी तरह आग पर काबू पाया. हालांकि, सूचना पाकर फायर ब्रिगेड की टीम भी भी आधे घंटे के अंदर पहुंच गई जिससे आग को फैलने से रोका गया.

ये भी पढ़ेंः होली खेलने के लिए घर से बुला कर ले गये युवक की दोस्तों ने ही कर दी हत्या, परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

पुलिस ने बताया कि सभी बच्चों के परिवार मजदूरी करते हैं. घटना की जानकारी देते हुए सदर एसडीओ शैलेश चन्द्र दिवाकर ने बताया कि जिस घर में आग लगी, वह मंजूर अली का था और उसके बच्चे दिलबर की भी इस हादसे में मौत हो गई है. सभी शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. वहीं,  मृत बच्चों के परिजन को 4-4 लाख रुपए का मुआवजा देने का ऐलान किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here