पटनाः बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इंटर और मैट्रिक वार्षिक परीक्षा 2021 के परीक्षा को लेकर मंगलवार को दिशा-निर्देश जारी कर दिया गया है. इसके मुताबिक, परीक्षा भवन में जूता-मोजा पहनकर आना मना है. छात्रों को समय से पहले सेंटर पर पहुंचना होगा.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट पहले ही इंट्री बंद कर दी जायेगी. कोरोना से बचाव के लिए एक बेंच से दूसरे बेंच के बीच पर्याप्त दूरी रखी जायेगी. प्रत्येक 25 परीक्षार्थियों पर एक वीक्षक के अनुपात में वीक्षकों की प्रतिनियुक्ति की जायेगी. वहीं, एक कमरे में कम से कम दो वीक्षक रहेंगे.

एडमिड कार्ड छूटने पर भी हॉल में बैठने का प्रावधान

बोर्ड की तरफ से दिशा-निर्देश में कहा गया है कि इंटर व मैट्रिक परीक्षा में उत्तरपुस्तिका में परीक्षार्थियों का फोटो भी रहेगा. किसी परीक्षार्थी का एडमिट कार्ड गुम हो जाता है या घर पर छूट जाता है इस स्थिति में उपस्थिति पत्रक में स्कैंड फोटो से पहचान कर और रौलशीट से सत्यापित कर परीक्षा में बैठने की अनुमति दी जायेगी.

ये भी पढ़ेंः पंचायत चुनाव से पहले ही चुनाव आयोग ने मुखिया सरपंच को दिया तगड़ा झटका, जानें पूरी बात

मैथ्स वालों के लिए 24 पृष्ठ की उत्तर पुस्तिका

वहीं, रौलशीट में गलत रहने पर संबंधित परीक्षार्थी से घोषणा पत्र लेकर केंद्राधीक्षक प्रवेश पत्र के अनुसार उक्त विषय की परीक्षा में उन्हें सम्मिलित होने दें और उपस्थिति पत्रक ए‌वं रौलशीट में सुधार कर अपना हस्ताक्षर एवं मुहर लगा दें. इसके अलावा मैट्रिक गणित एवं उच्च गणित विषयों के लिए 24 पृष्ठ की उत्तर पुस्तिका दी जायेगी, जिसमें पृष्ठ 23 पर ग्राफ पेपर भी रहेगा. जबकि अन्य सभी विषयों की उत्तर पुस्तिका 20 पृष्ठ का रहेगा.

Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here