0Shares

Alcohol Smuggling In Bihar : बिहार में शराबबंदी के बावजूद शराब के अवैध धंधों की खबरें आए दिन सुनने को मिलती रहती है। पुलिस प्रशासन लगातार इन गोरखधंधों के खिलाफ अभियान चलाता है। शराबबंदी वाले बिहार में शराब ढूंढने के लिए बिहार पुलिस अलग-अलग तरकीब अपना रही है।

ड्रोन और हेलीकॉप्टर के बाद अब पोर्टेबल हैंड हेल्ड स्केनर मशीन से शराब खोजी जाएगी। आबकारी एवं मद्य निषेध विभाग ने इस को लेकर तैयारियां कर ली है। उल्लेखनीय है कि तमाम पाबंदियों के बावजूद बिहार में शराब तस्करी और शराब की अवैध बिक्री पर रोक नहीं लग पा रही है। इसलिए अब प्रशासन ये तरकीब भी अपनाने वाला है।

Alcohol Smuggling In Bihar

Also Read : Ganga Path : बिहारवासियों को मिलेगी एक और भव्य सड़क की सौगात, जाम की समस्या से मिलेगी निजात

Alcohol Smuggling In Bihar : प्रत्येक वाहन को हाईटेक स्कैनिंग प्रक्रिया से गुजरना होगा

गया में डोभी, नवादा में रजौली, पूर्णिया में दलखोला, भभुआ में कर्मनाशा और गोपालगंज में बेलथारी जैसे विभिन्न चेक पोस्ट पर इन मशीनों का उपयोग किया जाएगा। मशीनों के चालू होने के बाद इन चेक पोस्टों से राज्य में प्रवेश करने वाले प्रत्येक वाहन को हाईटेक स्कैनिंग प्रक्रिया से गुजरना होगा। पोर्टेबल ऑटोमेटेड स्कैनिंग सिस्टम शराब और अन्य प्रतिबंधित वस्तुओं जैसे विस्फोटक, हथियार और वाहनों में छिपे ड्रग्स का तुरंत पता लगाएगा और उनकी पहचान करेगा।

उत्पाद शुल्क के उपायुक्त कृष्ण कुमार ने कहा कि मशीन का ट्रायल रन जुलाई के पहले सप्ताह में मुंबई की एक कंपनी की तरफ से किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ‘मशीनें उत्तर प्रदेश , झारखंड, पश्चिम बंगाल और नेपाल जैसे पड़ोसी राज्यों से बिहार में प्रवेश करने वाले वाहनों की मैन्युअल तलाशी को चरणबद्ध कर देंगी। जानकारी के अनुसार इससे पहले, विभाग ने सीमावर्ती क्षेत्रों के लिए फुल बॉडी ट्रक स्कैनर टनल खरीदने की योजना बनाई थी, लेकिन यह अमल में नहीं आ सका।

Leave a comment

Your email address will not be published.