पटना: प्रसिद्ध गणितज्ञ व गरीब बच्‍चों के हुनर को तराश कर उन्‍हें आइआइटी में प्रवेश दिलाने वाले कोचिंग संस्‍थान ‘सुपर 30’ के संस्‍थापक आनंद कुमार का चयन प्रतिष्ठित महावीर पुस्कार के लिए किया गया है.पुरस्कार के तहत उन्‍हें आज   चेन्‍नई में प्रशस्ति पत्र और स्मृति चिन्ह के साथ 10 लाख रुपये नकद दिए जाएंगे. पुरस्‍कार तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित प्रदान करेंगे.

बता दें कि भगवान महावीर फाउंडेशन की स्थापना 1994 में एन सुगलचंद जैन ने की थी. समाज में कमजोर लोगों के कल्याण के लिए निस्वार्थ सेवा कर रहे व्यक्तियों और संस्थानों की पहचान करने, उन्हें प्रोत्साहित करने और उनका सम्मान करने के लिए इसकी स्थापना की गई थी.

पुरस्कार और सम्मान से मिलती है प्रेरणा

आनंद कुमार ने बताया कि पुरस्कार और सम्मान उन्हें गरीबों के लिए और काम करने की प्रेरणा देते हैं. इससे यह पता चलता है कि समाज गरीबों को लेकर संवेदनशील है. बता दें कि गणितज्ञ आनंद कुमार बीते 18 सालों से सुपर 30 आवासीय कोचिंग के माध्यम से गरीब व मेधावी बच्‍चों को मुफ्त आइआइटी में प्रवेश के लिए पढ़ाने के लिए जाने जाते हैं.

सर्वोच्च पुरस्कार से नवाज़े गए हैं 

आनंद को इसके पहले भी कई पुरस्‍कार व सम्‍मान मिल चुके हैं. साल 2017 में उन्‍हें राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने राष्ट्रीय बाल कल्याण पुरस्कार से सम्मानित किया था. बिहार सरकार ने नवंबर 2010 में उन्‍हें शिक्षा के क्षेत्र में सर्वोच्च पुरस्कार,मौलाना अब्दुल कलाम आज़ाद शिक्षा पुरस्कार दिया था.

जीवन पर बन चुकी है फिल्म 

इसके साथ ही बता दें कि अमिताभ बच्‍चन अभिनीत प्रकाश झा की फिल्‍म ‘आरक्षण’ आनंद के कोचिंग संस्‍थान सुपर 30 पर ही आधारित है. उनके जीवन पर ऋतिक रोशन अभिनीत बायोपिक ‘सुपर 30’ भी बनाई गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here