पटना: दोस्तों बिहार को डिजिटल बनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक कदम उठाए जा रहे हैं। इसी बीच में पटना और दानापुर मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों पर यात्रियों की सुविधाओं के लिए टिकट वेंडिंग मशीन लगवाई जा रही है। इसके लिए अब यात्रियों को लंबी-लंबी लाइनों में खड़ा नहीं होना पड़ेगा।

 

कई टिकट आरक्षित होती है जिनके लिए ऑनलाइन आवेदन होता है लेकिन अनारक्षित टिकटों के लिए यात्रियों को एक कार्ड दिया जाएगा जिसके द्वारा ऑटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन द्वारा टिकट प्राप्त कर सकेंगे। आपको पहले बताया था कि पटना जंक्शन पर 6 ऐसी मशीनें लगाई गई है लेकिन अब दानापुर मंडल में भी 21 मशीनें लगवाई जा रही है।

यात्रियों को जो कार्ड दिए जाएंगे उनमें रिचार्ज करवाया जाता है फिलहाल इन कार्डों में रिचार्ज के लिए बुकिंग काउंटर पर जाना होगा वहीं पर पैसे देखकर सिम की तरह इनमें भी रिचार्ज करवाया जाएगा। बाद में जब काम पूरा हो जाएगा तब ऑनलाइन रिचार्ज की व्यवस्था भी की जाएगी। जब टिकट लेनी होगी तब इस कार्ड को मशीन में डालेंगे जिससे टचस्क्रीन एक्टिव हो जाएगी और वहां पर आपको अलग-अलग स्टेशन पर जाने के ऑप्शन दिखाई देंगे आपको अपना स्टेशन चुनना होगा और बाद में कुछ ही समय में आप को टिकट मिल जाएगी। इससे जितनी टिकट के पैसे लगते हैं वह आपके कार्ड से कट जाएंगे और बाकी बचे पैसों की आपको जानकारी दे दी जाएगी।

टिकट देने के लिए नियुक्त करेंगे पूर्व कर्मचारी: टिकट वेंडिंग मशीन से टिकट देने के लिए फैसिलिटेटर नियुक्त किए जाएंगे जो कि रेलवे के ही सेवानिवृत्त कर्मचारी होंगे। इनको टिकट राशि का 3% कमीशन के रूप में दिया जाएगा और इनकी अधिकतम उम्र 60 से 62 वर्ष होगी।

इन जगहों पर लग रही है मशीन

1. पटना जंक्शन
मुख्य पोर्टिको –1
अनारक्षित टिकट काउंटर परिसर–3
करबिगहिया परिसर–2
दानापुर –3
पाटलिपुत्र–3
आरा –3
राजेंद्र नगर टर्मिनल –3
बक्सर–3 (शेष स्टेशनों पर अगले चरण में मशीनें लगाई जाएंगी)

यह मशीनें लग जाने के बाद यात्रियों को काफी सुविधाएं होने वाली है और बार-बार में इतना लंबा इंतजार करने से मुक्ति मिलेगी।