दोस्तों भारत में क्रिकेट के लिए बहुत ही जुनून रहता है और इस पर चार चांद आईपीएल द्वारा लगा दिए जाते हैं , इसलिए आईपीएल को भारत का खुशियों का त्योहार भी कहा जाता है आईपीएल में देश विदेशों के बड़े-बड़े खिलाड़ी शामिल होते हैं और इससे दुनिया का सबसे बड़ा T20 टूर्नामेंट बनाते हैं। दोस्तों अब तक तो आईपीएल साल में एक बार ही आयोजित होता था लेकिन हाल ही में आई खबरों के अनुसार बीसीसीआई का कहना है कि 1 साल में दो बार आईपीएल का आयोजन करवाया जाएगा और यह घोषणा आईपीएल की बढ़ती हुई लोकप्रियता को देखते हुए किया गया है। वैसे तो पिछली बार भी आईपीएल दो चरणों में संपन्न हुआ था लेकिन वह एक ही टूर्नामेंट के दो हिस्से थे लेकिन अब होने वाले आईपीएल अलग-अलग होंगे और साल में दो बार टूर्नामेंट होंगे और दो बार ट्रॉफी बाटी जायेगी ।


पिछले साल आईपीएल मार्च 2021 में शुरू हुआ था लेकिन कोरोना के चलते इसे बीच में ही रोक दिया गया था और इसके दूसरे हाफ का आयोजन सितंबर में यूनाइटेड अरब अमीरात में करवाया गया था , इस टूर्नामेंट की विजेता टीम चेन्नई सुपर किंग्स थी। अब 2022 में होने वाले आईपीएल के टूर्नामेंट में आयोजित होने वाले हैं इसमें बस अब कुछ ही महीने बाकी रह गए हैं, हालांकि इससे पहले मेगा ऑक्शन होना बाकी है। दोस्तों 1 साल में दो बार आईपीएल करवाने का मतलब है एक आईपीएल पुरुष खिलाड़ियों का और दूसरा आईपीएल महिला खिलाड़ियों का।


महिला खिलाड़ियों का आईपीएल करवाने की बात न्यूजीलैंड की महिला टीम की खिलाड़ी सोफी डिवाइन ने की है उन्होंने बताया है कि आईपीएल बहुत ही पसंद किया जाने वाला टूर्नामेंट है और भारत एक बहुत बड़ा देश है जिसमें क्रिकेट के बहुत ही अच्छे समर्थक है इसलिए भारत को महिलाओं के लिए भी आईपीएल का आयोजन करवाना चाहिए, महिला क्रिकेट भी अभी सुर्खियां बटोर रहा है और काफी फेमस हो रहा है। अभी हाल ही में महिला बिग बैश लीग समाप्त हुई है ,जो कि ऑस्ट्रेलिया में आयोजित होता है। बिग बैश लीग से महिला क्रिकेट को काफी प्रोत्साहन मिला है।


वैसे तो बीसीसीआई ने 2018 में महिला T20 चैलेंज का आयोजन शुरू किया था लेकिन इसमें सिर्फ तीन टीमें ही आपस में खेलती है और इसलिए यह इतना बड़ा टूर्नामेंट नहीं है। आईपीएल में पहले 8 टीमें खेलती थी लेकिन अब इनकी संख्या बढ़ाकर 10 कर दिया गया है इसीलिए अभी महिला आईपीएल की शुरुआत करते हुए बीसीसीआई जैसे बड़े बोर्ड को महिला क्रिकेट को भी आगे बढ़ाना चाहिए । हालांकि मीडिया की तरफ से बीसीसीआई को प्रश्न किए जाने पर बीसीसीआई ने इस पर कोई जवाब नहीं दिया बस इतना कहा है की कोशिश करेंगे। केकेआर के सीईओ ने भी बीसीसीआई को महिला आईपीएल को शुरू करने के लिए बोला था। खबरों की माने तो चेन्नई सुपर किंग्स एक अधिकारी ने भी इस बारे में बात की थी तो दोस्तों हमें लगता है कि अब आने वाले एक-दो साल में ही महिला आईपीएल भी शुरू हो जाएगा और भारत के लिए यह बहुत बड़ी बात होगी।