पटनाः अपराध पर लगाम लगाने के लिए बिहार सरकार एक्शन में आ गई है. सूबे के सभी जेलों में बुधवार की सुबह से ही कई जेलों में छापेमारी शुरू हो गई. बढ़ते अपराध और बेऊर जेल में कैदियों के ऐशगाह का कथित वीडियो सामने आने के बाद राज्य की सभी जेलों में एक साथ छापा मारा गया है. इस छापेमारी से कैदियों के बीच हड़कंप मच गया.

नवादा के मंडल कारा में जिलाधिकारी और एसपी की अगुवाई में जेल में छापेमारी की गई. बताया जा रहा है कि छापेमारी के दौरान नवादा की जेल से 9 मोबाइल, 4 चार्जर, 3 बैट्री तक बरामद की गई है. इधर बिहारशरीफ मंडल कारा में छापेमारी के दौरान तीन मोबाइल फोन बरामद किए गए. छापेमारी के दौरान प्रभारी डीएम, एसपी डीएसपी, एसडीओ और थानेदार भी मौजूद थे. वहीं किशनगंज की जेल से चाकू और कैंची बरामद हुआ है.

सीतामढ़ी की जेल में भी मोबाइल

सीतामढ़ी मंडल कारा में जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में छापेमारी के दौरान सभी वार्डों की सघन तलाशी ली गई. इस दौरान सदर एसडीओ, डीडीसी, समेत कई पदाधिकारी रेड में शामिल थे. छापेमारी में जेल से दो मोबाइल फोन, एक चार्जर बरामद हुआ है.

कई जेलों से कैंची बरामद

आरा मंडल कारा में छापेमारी के दौरान 1 मोबाइल फोन, 1 चार्जर, 1 चाकू और 1 कैंची मिली है. जबकि बेगूसराय मंडल कारा में भी डीएम, एसपी और एसडीओ के नेतृत्व में सुबह-सुबह दबिश दी गई. बढ़ते अपराध को लेकर 2 घंटे तक विभिन्न वार्डों में पुलिस ने छापेमारी की है. इस छापेमारी के दौरान‌ दो धारदार कैंची बरामद की गई है.

ये भी पढ़ेंः कैदियों के जगने से पहले ही बेऊर जेल में डीएम ने मारा छापा, पूर्व सांसद के पास से सिम कार्ड बरामद

बेऊर जेल का कथित वीडियो हुआ था वायरल 

कुछ दिन पहले ही पटना समेत पूरे बिहार में एक वीडियो वायरल हुआ. इस वायरल वीडियो को लेकर ये दावा किया गया कि ये राजधानी के बेउर जेल के अंदर का वीडियो है. इसमें कुणाल शर्मा नाम के कैदी का कान पकड़कर उठक-बैठक करने का वीडियो था. वायरल वीडियो के आधार पर ये भी दावा किया गया कि जेल में ही बंद अपराधी सुबोध सिंह ने रंगदारी में मोटी रकम न मिलने पर कुणाल की पिटाई करवाई और उससे उठक-बैठक भी करवाई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here