पटनाः बीजेपी के वरिष्ठ नेता व बिहार सरकार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने आज पटना में  इथेनॉल उत्पादन प्रोत्साहन नीति को लेकर चर्चा की. मंत्री शाहनवाज हुसैन के साथ बीजेपी एमएलसी व राष्ट्रीय सह मीडिया प्रभारी डॉ. संजय मयूख के अलावा उद्योग जगत के कई अधिकारी मौजूद थे.

शाहनवाज हुसैन ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि विदेशों में इथेनॉल प्रोडक्शन करने वाली कंपनियों काफी फायदा में रहती है. देश में बिहार  इथेनॉल उत्पादन में पांचवें नंबर पर हैं. आने वाले समय में बिहार इथेनॉल उत्पादन में पहले नंबर पर होगा. इथेनॉल उत्पादन अभी उत्तर प्रदेश पहले नंबर पर हैं. बिहार इथेनॉल प्रोडक्शन प्रमोशन पॉलिसी 2012 की शुरुआत करने वाला पहला राज्य बना है.

इथेनॉल प्रोडक्शन से बढ़ेगी किसानों की आय

मंत्री ने आगे कहा कि 2006 में नीतीश कुमार ने इस कार्य को जमीन पर लाने का सपना लेकर आए थे. बिहार में बंटवारे के बाद खनिज का भंडार झारखंड को चला गया था. बिहार में मक्का का उत्पादन बड़े मात्रा में किया जाता है. मक्का चावल सड़े हुए अनाज से इथेनॉल बनता है. बिहार के किसानों को इससे अब कोई नुकसान नहीं होगा. इथेनॉल प्रोडक्शन से बिहार के किसानों की आय में वृद्धि होगी.

बिहार में लगेेंगे उद्योग

चावल, गन्ना और मक्का की खेती करने वाले किसानों को बिहार में लखनऊ जंक्शन यूनिट शुरू होने से काफी फायदा होगा. उद्योग मंत्री ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने 2006 में इथेनॉल की फैक्ट्री बिहार में शुरू करने का सपना देखा था. मगर यूपीए सरकार ने इसपर सहमति नहीं दी. मगर एनडीए सरकार ने इस बात को समझा और इथेनॉल उत्पादन की सहमति बिहार को दिया. बिहार में उद्योग का ताता लगेगा. बिहार में उद्योगों का जल्द ही जाल बिछने वाला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here