पटना. बिहार सरकार ने कोरोना महामारी और विधानसभा चुनाव को देखते हुए दुर्गा पूजा के लिए दिशा-निर्देश जारी किया है. इसके तहत गृह विभाग ने सभी प्रमंडलीय आयुक्त, रेंज DIG, सभी जिलों के डीएम, एसपी, एसएसपी और रेल एसपी को जारी निर्देश में कहा है कि दुर्गा पूजा का आयोजन मंदिरों और निजी रूप से घरों में ही किया जायेगा

वहीं, मंदिरों में पूजा पंडाल या मंडप का निर्माण किसी विशेष थीम पर नहीं किया जाएगा. गरबा डांडिया रामलीला के अलावा किसी तरह के कार्यक्रम का आयोजन भी नहीं होगा. इसके अलावा लाउड स्पीकर के इस्तमाल पर भी रोक लगा दी गई है.

फेस मास्क और सामाजिक दूरी का करना होगा पालन
बिहार सरकार के इस निर्देश में यह भी कहा गया है कि रावण दहन का कार्यक्रम सार्वजनिक स्थान पर आयोजित नहीं होगा. ऐसा करने पर भीड़ जमा होने की आशंका है. साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क का प्रयोग और सामाजिक दूरी न्यूनतम 6 फीट का अनुपालन करना आवश्यक होगा.
Get Today’s City News Updates

उक्त दिशा निर्देशों का उलंघन करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध आपदा प्रवंधन अधिनियम की धारा 51-60 के प्रावधानों के अतिरिक्त भादवि की धारा 188 एवं अन्य सुसंगीत धाराओं के तहत कानूनी कारवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें.चारा घोटाले में मिली लालू को जमानत, जानिए क्यों फिर भी जेल से नहीं आ सकेंगे बाहर

पंडाल व्यवसायियों को लाखों रुपये का उठाना होगा नुकसान
बता दें कि शहर के पूजा पंडालों के निर्माण से टेंट पंडाल व्यवसाय को काफी आमदनी होती रही है, लेकिन दुर्गापूजा के दौरान पंडाल निर्माण पर रोक लगने से राजधानी के टेंट कारोबारियों में मायूसी है. पूजा पंडाल नहीं बनने से पंडाल व्यवसायियों को लाखों रुपये का नुकसान उठाना होगा.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *