बिहार राज्य में लगातार बिजली के क्षेत्र में अपने आपको आत्मनिर्भर बनने की कवायद में लगा हुआ है। इस पर केंद्र सरकार और राज्य सरकार के संयुक्त प्रयासों से ही बिहार राज्य में एक और नए बिजलीघर को जल्द ही स्थापित किया जा रहा हैं।

इसी बीच में एक और बड़ी खबर सामने आ रही है की बिहार को जल्द ही एक और नए बिजलीघर की सौगात मिलने वाली है। मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की बिहार राज्य में एक नया बिजली घर मुजफ्फरपुर जिले के कांटी क्षेत्र में जल्द ही बनकर तैयार होगा। इस पर राज्य सरकार ने इसके संबंध में केन्द्र को भी प्रस्ताव दिया है। कांटी में पुरानी यूनिटों को बंद करके इनके स्थान पर करीब 660 मेगावाट वाली क्षमता का बिजलीघर लगाने की योजना बनायीं जा रही है।

नयी तकनीक पर बनाया जायेगा यह बिजली घर

ऐसे संभावना जताई जा रही है की 800 मेगावाट क्षमता के इस नए बिजलीघर के निर्माण को लेकर के भी है। आपलो बता दे की कांटी में यूनिट 1 और 2 ने अपनी उम्र पूरी कर ली है। ऐसे में अब इसे बंद करने का फैसला लिया जा रहा है। जर्जर होने के कारण यहां की बिजली भी काफी महंगी हो गयी थी।

कांटी बिजलीघर की दोनों पुरानी यूनिट को बंद होने के बाद हमने वहां पर करीब करीब 660 मेगावाट के नए बिजलीघर के निर्माण करने का निर्णय किया है। इस नए बिजलीघर के निर्माण के लिए यहाँ पर पूरा संसाधन भी मौजूद है। ज़मीन और पानी की उपलब्धता के साथ साथ में आवश्यक इंफ़्रास्ट्रक्चर होने के कारण नयी यूनिट बनाने में परेशानी भी नहीं होगी। नयी तकनीक के आधार पर बिजलीघर बनेगा, तो वहां की बिजली भी सस्ती होने की संभावना बताई जा रही है।