जल्द ही बिहार अब नेपाल को बिजली देने की योजना बना रहा है, और इस पर जल्द से जल्द काम भी शुरू कर दिया जायेगा। मिली जानकारी के अनुसार आपको भी बता दे की सरकार की इस परियोजना के बाद बिहार के साथ-साथ में नेपाल के भी कुछ इलाकों में बिजली की कभी भी कमी नहीं होगी।

 

मिली जानकारी के मितबिक बताया जा रहा है कि बिहार राज्य के कुछ जिलों में बिजली को निर्बाध रूप से उपलब्ध कराने के लिए बिहार सरकार के द्वारा रक्सौल-बेतिया और गोपालगंज पावर स्टेशन का भी कार्य युद्ध स्तर पर कराया जा रहा है। मिली जानकी के अनुसार आपको बता दे की इस परियोजना के बाद बिहार के कुछ जिलों के साथ-साथ में ही नेपाल में भी 220 केवीए ट्रांसमिशन लाइन का जाल बिछाया जा रहा है, जो की बिजली आपूर्ति में सहायता प्रदान करेगी

कौन कौन से जिले है शामिल

इस योजना के माध्यम से बिहार राज्य के सीतामढ़ी, गोपालगंज, रक्सौल, बेतिया, रामनगर जैसे स्थानों पर निर्बाध बिजली की आपूर्ति की जा रही है। रक्सौल, सीतामढ़ी, गोपालगंज, बेतिया और नरकटियागंज ग्रिड के सभी स्टेशन को यह रक्सौल के रामगढ़वा प्रखंड के बेला ग्रिड से जोड़ने का काम किया जा रहा है। इन्ही सब ग्रिड स्टेशन से नेपाल में स्थित परवानीपुर ग्रिड में भी बिजली की आपूर्ति की जा रही है।

 

इसके साथ साथ में आने वाले समय में इसी ट्रांसमिशन लाइन को मोतिहारी को भी जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। इस परियोजन में सीतामढ़ी, रक्सौल और गोपालगंज को जोड़ने वाली इस ट्रांसमिशन लाइन और बेला ग्रिड सब स्टेशन के निर्माण में करीबन 450 करोड़ रुपये की लागत आने वाली है।