पटना: बिहार के लोग भी अब दिल्ली की तरह जल्द ही इलेक्ट्रिक बसों में सफर कर सकेंगे. बिहार में लगातार बढ़ रहे वायु प्रदूषण और ध्वनि प्रदूषण को कम करने के लिए इलेक्ट्रिक बसों को सड़क पर उतारने की कवायद तेज कर दी है. सरकार जल्‍द ही बिहारवासियों को इलेक्ट्रिक बसों का नया तोहफा देने जा रही है.

बिहार राज्य पथ परिवहन निगम शुरुआती फेज में 25 बसें चलाने जा रही है. फिलहाल 8 बसें पटना पहुंच गई हैं. एक बस की कीमत तकरीबन 1.25 करोड़ रुपये बताई जा रही है. अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस बस अभी सेंट्रल वर्कशॉप (फुलवारी शरीफ) में पार्क की गई है. यहां, इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन बनाने का काम भी तेजी से चल रहा है.

हैमर मोबाइल चार्जिंग की रहेगी व्यवस्था

बिहार राज्य पथ नगर निगम के प्रशासक श्याम किशोर का कहना है कि इलेक्ट्रिक बस एक बार फुल चार्ज होने पर 250 किमी का एवरेज देगी. बस में 3 सीसीटीवी कैमरे लगे हैं तो ड्राइविंग सीट के सामने एक एलसीडी स्क्रीन भी लगा है. बस के भीतर ही फायर सेफ्टी सिस्टम, हैमर और मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट लगा है.

परिचालन की तैयारी में जुटा विभाग 

बर 30 यात्रियों की क्षमता वाली है सभी बसें एअर कंडीशंड है और पूरी तरह साउंड लेस भी. श्याम किशोर बताया कि सभी बसों का रजिस्ट्रेशन और परमिट प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई है. निगम अब बस के परिचालन की तैयारी में निगम जुट गया है. बसों को चार्ज करने के लिए फुलवारी शरीफ में ही आधे एकड़ में बड़ा इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन बनाया जा रहा है, जिसका 75 फीसदी काम पूरा कर लिया गया है. यहां एक बार में 8 बसें चार्ज हो सकती हैं.

ये भी पढ़ेंः अब पटना में ओला, ऊबेर की बादशाहत होगी खत्म, लोकल उगना कैब देगी टक्कर

जानकारी के मुताबिक शुरुआत में इसे पटना के हर रूट पर लोकल में चलाया जाएगा. इसके कुछ वक्त बाद बसों के जरिए पटना से मुजफ्फरपुर और राजगीर की यात्रा भी कर सकेंगे. मुजफ्फरपुर और राजगीर में भी चार्जिंग स्टेशन बनाया जा रहा है. वहीं, सभी जगहों पर प्लेटफॉर्म तैयार किए जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि एक बस की कीमत सवा करोड़ बताई जा रही है. इस बस से प्रदूषण में कमी आएगी और ईंधन की बचत भी होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here