Bihar News : भारत रेलवे द्वारा बिहार में कई बड़ी परियोजनाओं पर काम चल रहा हैं, लोगों की डिमांड देख रेलवे काफी तेजी से काम में जुटी हैं। इसमेसे कई परियोजनाएं अपने अंतिम चरण में आ पहुंची हैं, कई परियोजनाएं इसी साल में पूरी भी हो जाएगी। इसी कड़ी में रक्सौल से नरकटियागंज के बीच रेल लाइन का इलेक्ट्रिफिकेशन पूरा हो गया। कब इस रूट पर इलेक्ट्रिक इंजन के साथ ट्रेन चलेगी।

Bihar News

Bihar News : बढ़ेगी ट्रेनों की स्पीड

ऐसे में इलेक्ट्रिफिकेशन होने से एक तरफ ट्रेनों की स्पीड बढ़ेगी वहीं दूसरी तरफ इस रूट पर मेमू ट्रेन का भी परिचालन किया जा सकेगा। बुधवार की देर शाम रक्सौल से पहली ट्रेन शाम को 5 बजकर 33 मिनट पर इंपटी पीओएच स्पेशल को लेकर समस्तीपुर मंडल का इलेक्ट्रिक लोको रक्सौल से रवाना हुआ। सीआरएस इंस्पेक्शन के बाद यह पहली ट्रेन रक्सौल से इलेक्ट्रिक इंजन के साथ रवाना हुई है।

दरअसल आपको बता दें कि सीआरएस इंस्पेक्शन के दौरान सामने आयी कमियों को दुरुस्त करते हुए पूर्व मध्य रेलवे निर्माण विभाग के द्वारा अब पूर्ण विद्युतीकरण वाली लाइन समस्तीपुर मंडल को हैंडओवर कर दी गयी है। इस लाइन पर इलेक्ट्रिक ट्रेन का परिचालन शुरू होने के बाद पूर्वी और पश्चिमी दोनो चंपारण ग्रीन जोन में शामिल हो गया है।

ज्ञात हो कि रक्सौल से नरकटियागंज के बीच मात्र 42 किलोमीटर रेलवे लाइन ही इलेक्ट्रिफाइड नहीं थी, जिसे अब पूरा कर लिया गया है। इस लाइन का इलेक्ट्रिफिकेशन पूर्व मध्य रेलवे निर्माण विभाग पटना के अंतर्गत काम करने वाली जयमंगला कंस्ट्रक्शन बेगुसराय के द्वारा कराया गया है। आने वाले दिनों में इस रूट पर डेमू रैक की जगह पर अब मेमू रैक से इलेक्ट्रिक ट्रेने चलेगी। जिसमें लोगों को बैठने के लिए अधिक जगह उपलब्ध होगी, साथ ही ट्रेन की गति भी बढ़ेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.