बिहार सरकार का ऐलान अब घर बैठे मंगा सकते हैं अपनी जमीन का नक्शा, ये है आसान तरीक़ा

0
9

बिहार सरकार ने जमीन के राजस्व नक्शे को लोगों तक पहुंचाने के लिए बड़ा कदम उठाया है. राज्य सरकार जमीन के राजस्व नक्शे की होम डिलीवरी इस हफ्ते से शुरू करने जा रही है. इसकी शुरुआत के साथ ही ऐसा करने वाला बिहार देश का पहला राज्य बनेगा. नक्शे की डिलीवरी के लिए डाक विभाग और बैंक के साथ बिहार सर्वेक्षण कार्यालय द्वारा एमओयू पर हस्ताक्षर किया जा चुका है. सिक्यूरिटी ऑडिट की प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई है.

नक्शे लिए भुगतान करने पर बैंक कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं वसूलेंगे. इसके लिए उन्होंने अपनी सहमति दे दी है. सभी प्रमुख बैंक इस सुविधा से जुड़े हैं. अभी अगर किसी के नक्शे की जरूरत पड़ती है, तो उसे राजधानी पटना के गुलजारबाग कार्यालय में जाना पड़ता है.

स्पीड पोस्ट से आपके घर पहुंचेगा नक्शा

डाक विभाग द्वारा नक्शे की डिलीवरी के लिए स्पीड पोस्ट की सुविधा दी जाएगी. इसके लिए पांच लाख बार कोड डाक विभाग द्वारा आंवटित किया जा चुका है. कार्यालय में इस सुविधा को लांच करने की पूरी तैयारियां हो चुकी हैं.

कितना लगेगा पैसा

डिलीवरी वाले हर कंटेनर पर बार कोड जेनरेटेड स्टिकर लगाया जाना है. सुरक्षा के लिहाज से नक्शों को कंटेनर में रखकर रैयतों को उपलब्ध कराया जाएगा. डाक चार्ज नक्शे ते वजन के मुताबिक लगेगा. एक कंटेनर की कीमत 35 रुपये निर्धारित की गई है. एक कंटेनर में पांच नक्शों को ही पैक किया जा सकता है.

तीन नक्शा समेत एक कंटेनर की कीमत 100 रुपये तय की गई है. वहीं, तीन से अधिक नक्शों के के लिए एक कंटेनर के लिए 150 रुपये देना होगा. बिहार सर्वेक्षण विभाग ने डिलीवरी के लिए कंटेनर की खरीद कर ली है.

कैसे जमा होगा शुल्क

नक्शे की ऑनलाइन डिलीवरी के लिए सबसे पहले आपको भू-अभिलेख और परिमाप निदेशालय की वेबसाइट पर जाकर सॉफ्टवेयर पर ना होगा. पेज पर आपको जिला, राजस्व थाना और मौजा सलेक्ट करना होगा. इसके बाद वेबसाइट पर मौजूद नक्शा एक या एक से अधिक पेज में दिखाई देगा.

ऐसे कर सकते हैं भुगतान

एक बार में अधिकतम पांच पेज को सलेक्ट किया जा सकता है. शुल्क शीट संख्या और वजन के मुताबिक निर्धिारित की गई है. वह साइट पर ही आपको दिख जाएगा. आप पेमेंट का भुगतान क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड और यूपीआई के माध्यम से कर सकते हैं और नक्शों को होम डिलीवरी से अपने घर मंगा सकते हैं.

किसानों की आय बढ़ाने में मददगार है यह औषधीय पौधा, एक एकड़ में हो जाती है 4 लाख रुपए तक कमाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here