पटना: इस बार फिर गणतंत्र दिवस पर होने वाली मुख्य राष्ट्रीय  समारोह में ‘जल जीवन हरियाली मिशन’ पर आधारित बिहार सरकार की झांकी के प्रस्ताव को केंद्र सरकार ने खारिज कर दिया है.प्रस्ताव के खारिज होने का मतलब है कि राष्ट्रीय राजधानी में राजपथ पर भव्य गणतंत्र दिवस परेड में बिहार का प्रतिनिधित्व नहीं होगा.
Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

दिल्ली स्थित बिहार सूचना केंद्र के सूत्रों ने बिहार की झांकी के प्रस्ताव के खारिज होने की पुष्टि की है उन्होंने बताया कि प्रस्ताव को इस आधार पर स्वीकृति नहीं मिली कि यह राज्यों की झांकियों के चयन के लिए जरूरी मानकों को पूरा नहीं कर सकी.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में हरित क्षेत्र और भूजल स्तर को बढ़ावा देने के लिए अक्टूबर 2019 में ‘जल-जीवन-हरियाली मिशन’ की शुरुआत की थी. बिहार ने इसी थीम पर आधारित झांकी का प्रस्ताव दिया था.

विपक्षी पार्टी का केंद्र सरकार पर आरोप 

वहीं विपक्षी,राजद पार्टी ने झांकी का प्रस्ताव खारिज होने पर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उस पर बिहार के लोगों का ‘‘अपमान’’ करने का आरोप लगाया। राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा,‘‘ केंद्र सरकार ने बिहार के लिए विशेष दर्जे की मांग को खारिज किया और अब गणतंत्र दिवस पर झांकी के जरिए अपनी योजना का प्रदर्शन करने के प्रस्ताव को भी खारिज कर दिया… यह ढिंढोरा पीटने वाली भाजपा की ‘डबल इंजन’ की सरकार की सच्चाई है।’’
Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here