0Shares

Bihar Weather Alert : बिहार में मॉनसून के प्रवेश करते ही संभावित बाढ़ की स्थिति से बचाव हेतु तैयारियां शुरू कर दी गयी है। राज्य के 20 जिलों में एनडीआरएफ-एसडीआरएफ की 25 (एनडीआरएफ की सात और एसडीआरएफ की 18) टीमें तैनात की गयी है। जवानों को कोरोना गाइडलाइन के तहत काम करना है। इस कारण से इन्हें पीपीटी कीट, मास्क व सेनेटाइजर सहित राहत कार्य में जरूरत की सभी सामग्री दी गयी है।

20 जिलों में आपदा प्रबंधन विभाग के दिशा-निर्देश पर टीमों को गुरुवार की देर शाम तक तैनात कर दिया गया। दोनों टीमों को मिला कर कुल 875 से अधिक ट्रेंड जवानों को बाढ़ के दौरान लोगों तक राहत पहुंचाने की जिम्मेदारी दी गयी है।

Bihar Weather Alert

Also Read : Bihar Weather Report : अगले 48 घंटों में एंट्री लेगा मानसून, बिहार के 10 जिलों में अलर्ट

Bihar Weather Alert : कोरोना से बचाव के लिए अतिरिक्त मास्क और सेनेटाइजर

जवानों के पास लगभग 20 बोट एवं 180 लाइफ जैकेट हैं, जिनकी मदद से बाढ़ के दौरान लोगों को निकालना आसान होगा। कोरोना से बचाव के लिए अतिरिक्त मास्क और सेनेटाइजर भी दिये गये हैं। एनडीआरएफ की टीम मुजफ्फरपुर, किशनगंज, सुपौल, पटना, गोपालगंज , दरभंगा व पटना के दीदारगंज में भेजी गयी हैं।।वहीं, शुक्रवार को भागलपुर में भी एक टीम पहुंच गई है। अधिकारियों के मुताबिक कुल 18 टीमों को बाढ़ के दौरान कामकाज में लगाने का निर्णय लिया गया है।

एसडीआरएफ की टीम कटिहार, समस्तीपुर, शिवहर, अररिया व मोतिहारी भेजी गयी है। वहीं, 13 जिलों में टीमों को पहले ही तैनात कर दिया गया है। इनमें मधेपुरा, सहरसा, सीतामढ़ी, बिहटा मुख्यालय, बेगूसराय, भागलपुर, मुजफ्फरपुर, गाय घाट, खगड़िया, हाजीपुर, सारण, बेतिया व पूर्णिया शामिल हैं।

बाढ़ के दौरान फंस गये लोगों में सबसे पहले गर्भवती महिलाओं, बच्चे व बुजुर्गों को निकालना है।Bबाढ़ प्रभावित इलाकों का निरीक्षण कर महिलाओं बच्चों व बुजुर्गों की लिस्ट तैयार करेंगे।

मेडिकल टीम और क्विक रिस्पॉन्स टीम भी बनायी गयी है, जो वॉकी-टॉकी के उपयोग से राहत व बचाव में काम करेंगे। अभी से बाढ़ प्रभावित इलाकों में कोरोनो के प्रति लोगों को जागरूक करेंगे। लोगों को यह भी जानकारी देंगे कि बाढ़ आने पर कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए खुद को बचायेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published.