पटना. बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण का नामांकन दाखिल किया जा रहा है. लेकिन अब तक किसी भी गठबंधन में सीटों को लेकर मामला सेट नहीं हो पाया है. एनडीए और महागठबंधन में सीट शेयरिंग का अब तक ऐलान नहीं हो सका है. वहीं, बसपा-रालोसपा गठबंधन के बीच सीटों का बंटवारा लगभग तय हो गया है. इसी दौरान बसपा को बिहार में बड़ा झटका लगा है.

बहुजन समाज पार्टी को बिहार में बड़ा झटका लगा है. बसपा के प्रदेश अध्यक्ष आरजेडी में शामिल हो गए हैं. बसपा के बिहार प्रदेश अध्यक्ष भरत बिंद को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आज आरजेडी की सदस्यता दिलाई.  बिहार बसपा अध्यक्ष के आरजेडी में शामिल होने से पार्टी को बड़ा झटका लगा है. इससे बसपा-रालोसपा गठबंधन के समक्ष बड़ी मुश्किल सामने खड़ी हो गई है.

भभुआ सीट से लड़ सकते हैं चुनाव

आरजेडी में शामिल होने के बाद भरत बिंद  ने कहा कि नया बिहार बनाने, भ्रष्ट युवा विरोधी नीतीश सरकार हटाने के संकल्प के साथ तेजस्वी यादव के नेतृत्व में आरजेडी में सम्मिलित हुए हैं. बताया जा रहा है कि भरत बिंद भभुआ से RJD की टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं. इससे पहले आज बसपा और रालोसपा गठबंधन के बीच सीट शेयरिंग होने की खबर आई. भभुआ सीट रालोसपा के खाते में जाने की खबर आ रही है. जिस पर प्रदेश अध्यक्ष वीरेन्द्र कुशवाहा से BSP-RLSP गठबंधन के उम्मीदवार होगें. इस वजह से भरत बिंद आरजेडी में शामिल हो गए.

ये भी पढ़ेंः RLSP-BSP में सीट शेयरिंग पर बनी सहमति, उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी इतने सीटों पर करेगी फाइट

153 सीट पर रालोसपा लड़ेगी चुनाव

रालोसपा बिहार की 153 सीटों पर चुनाव लड़ेगी जबकि बसपा के 90 कैंडिडेट अपना किस्मत आजमाएंगे. इसमें उसे जनवादी शोसलिस्ट पार्टी के अलावा इस गठबंधन में शामिल अन्य दलों को भी समायोजित करना होगा. इनमें पहले चरण की 35 सीटें शामिल है जहां, चुनाव होंगे. सुत्रों के मुताबिक ओवैशी की पार्टी से भी बातचीत चल रही है. इसके अलावा 2-3 अन्य छोटे-छोटे दलों से बातचीत जारी है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *