पटनाः बिहार विधानसभा चुनाव में केंद्र में एनडीए का हिस्सा रहे चिराग पासवान इस बार नीतीश कुमार का विरोध करते हुए एनडीए से अलग होकर जेडीयू के खिलाफ अपने प्रत्याशी उतारे थे. एलजेपी ने जेडीयू को नुकसान पहुंचाते हुए 43 सीट पर पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई. हालांकि, अब एलजेपी के नेता जेडीयू में शामिल होने के साथ ही जेडीयू के बड़े नेताओं और सीएम से मिल रहे हैं.

हालिया दिनों में एलजेपी के एक मात्र विधायक ने मंत्री अशोक चौधरी से मुलाकात की थी. वहीं, नवादा से एलजेपी सांसद चंदन सिंह नीतीश कुमार से मिलने सीएम आवास पहुंचे थे. ऐसे में तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे थें. इस पर आज सीएम नीतीश कुमार ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है.

जनप्रतिनिधियों से होती है मुलाकात

जेडीयू प्रदेश कार्यालय पहुंचे सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि वो मुख्यमंत्री हैं उनके पास किसी भी दल के एमएलए या एमएलसी लोकसभा सदस्य या राज्यसभा के सदस्य आकर मिल सकते हैं. जो जनप्रतिनिधि मिलना चाहते हैं उन्हें समय देते हैं.

सियासी मसले पर नहीं हुई बातचीत

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि चंदन सिंह अपने क्षेत्र की समस्या के समाधान के लिए मिलने आये थे. इसके अलावे कन्हैया कुमार भी अशोक चौधरी से मिलने से पहले हमसे भी मिले हैं. उनके अलावा उनके पार्टी के एमएलए भी हमसे मिले हैं. नीतीश कुमार का कहना है कि उनसे कोई भी नेता और जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्र की जन समस्या को लेकर मिल सकता है. ऐसे में चंदन सिंह से कोई राजनीतिक बात नहीं हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here