nitish kumar

पटनाः एलजेपी बिहार विधानसभा चुनाव से पहले के तेवर जेडीयू के खिलाफ और तेज हो गए हैं. राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान बिहार वासियों के नाम दो पन्नों का एक पत्र लिखा.

पत्र में चिराग ने लोगों से साफ शब्दों में अपील की है कि वे जेडीयू को इस बार के चुनाव में वोट न दें. चिराग पासवान ने अपने पत्र में ‘बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट’ के अपने अभियान को लेकर भी कई बातें साफ की हैं.

चिराग पासवान ने इस पत्र को सोशल मीडिया के जरिए ट्वीट कर उन्होंने युवाओं को रोजगार और बिहार के विकास की बातें की हैं. चिराग ने लोगों से की गई अपनी अपील में कहा है

कि वे जेडीयू को वोट न दें, वरना उनके बच्चों को चुनाव के बाद पलायन के लिए मजबूर होना पड़ेगा. दो पन्नों के पत्र में मतदाताओं से खुले शब्दों में  चिराग ने जेडीयू को वोट न देने की अपील की है. वहीं, अपने पिता रामविलास पासवान की बीमारी पर भी पत्र में चिंता जताई है.

Immediately Receive Daily CG Newspaper Updates

ram_vilas_paswan
राम विलास पासवान के साथ चिराग (फाइल फोटो)

ट्वीट कर लोगों से की अपील
चिराग पासवान ने अपने पत्र में ‘बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट’ को लेकर दिखाए गए उत्साह के लिए लोगों को धन्यवाद दिया है. साथ ही उन्होंने लोगों का आह्वान करते हुए कहा है कि यह ऐतिहासिक मौका है.

यह राष्ट्रहित और बिहार के हित में सही फैसला लेने का समय है. चिराग ने ट्वीट कर कहा, ‘बिहार राज्य के इतिहास का ये बड़ा निर्णायक क्षण है.

करोड़ों बिहारियों के जीवन मरण का प्रश्न है क्योंकि अब हमारे पास खोने के लिए और समय नहीं है. जेडीयू के प्रत्याशी को दिया गया एक भी वोट कल आपके बच्चे को पलायन करने पर मजबूर करेगा.’

बिहार राज्य के इतिहास का ये बड़ा निर्णायक क्षण है करोड़ों बिहारियों के जीवन मरण का प्रश्न है क्योंकि अब हमारे पास खोने के लिए और समय नहीं है।

जे॰डी॰यू॰ के प्रत्याशी को दिया गया एक भी वोट कल आपके बच्चे को पलायन करने पर मजबूर करेगा। #Bihar1stBihari1st pic.twitter.com/VTRJSIuZR2

— युवा बिहारी चिराग पासवान (@iChiragPaswan) October 5, 2020

नीतीश के खिलाफ उम्मीदवार उतारेंगे चिराग

बता दें कि एनडीए गठबंधन में रहते हुए चिराग पासवान लगातार जेडीयू और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ मुखर रहे हैं. विधानसभा चुनाव की तारीखों नजदीक आते ही उनके बयान और तेज हो गए थे.

आखिरकार बीते दिनों लोजपा ने बिहार चुनाव में बीजेपी के साथ और जेडीयू के खिलाफ मैदान में उतरने का फैसला कर लिया. चिराग 143 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है, जबकि बीजेपी की तरफ से उनकी पार्टी को सिर्फ 27 सीटें ही ऑफर की गई थीं.

Get Daily City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here