पटना  बिहार के पूर्व डीजीपी के करीबी और बक्सर जिले के एक आरटीआई कार्यकर्ता अमित राय ने फांसी लगाकर आत्‍महत्‍या कर ली है. मृतक अमित गुप्‍तेश्‍वर पांडेय की तरफ से शुरू किए गए नशा मुक्ति अभियान में काफी सक्रिय रहे थे. अमित ने फांसी अपने पैतृक गांव में हुई है.

जानकारी के मुताबिक अमित राय (26 वर्ष) बक्‍सर औद्योगिक थाना क्षेत्र स्थित उमरपुर गांव  के बरमेश्वर राय के पुत्र हैं.  शुक्रवार देर शाम करीब 9 बजे घर के सभी लोग भोजन करने के  लिए गए थे, तभी अमित ने पंखे की कुंडी में बिस्तर की बेडशीट से फंदा लगाकर फांसी लगा ली.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

नशा मुक्ति अभिया के थे लीडर

घरवाले जब भोजन कर लौटे तो अमित को फंदे से झूलता पाया. आनन-फानन में परिजनों ने सदर अस्पताल पहुंचाया. जहां, जांच के बाद चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. वह पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय के नशा मुक्ति अभियान के लीडर थे.

डिप्रेशन में उठाया कदम!

घटना की पुष्टि करते हुए अमित के चाचा तथा उमरपुर के मुखिया ललक राय ने बताया कि संभवतः डिप्रेशन के कारण शायद यह कदम उठाया हो. लेकिन अब तक इसके पीछे का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है. घटना की जानकारी मिलने के बाद आरटीआई कार्यकर्ता के आत्महत्या की खबर सुन हर कोई हैरान है.

Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here