tejashwi yadav

पटनाः बिहार में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होने के बाद महागठबंधन की मुश्किले बढ़ती जा रही है. जहां, एक तरफ रालोसपा ने महागठबंधन में तेजस्वी यादव को सीएम फेस मानने से साफ इनकार कर दिया है. वहीं, कांग्रेस ने भी आक्रमक तरीके से सीट के लिए आरजेडी पर प्रेशर बनाना शुरू कर दिया है. कांग्रेस का कहना है कि अगर महागठबंधन से सम्मानजनक सीटें नहीं मिलीं तो बिहार की सभी 243 विधानसभा सीटों पर पार्टी अपने उम्मीदवार खड़ा करेगी.

दरअसल, महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर मामला चुनाव की घोषणा से पहले से बिगड़ता जा रहा है. सबसे पहले हम पार्टी प्रमुख पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने महागठबंधन से नाता तोड़ लिया, उसके बाद उपेंद्र कुशवाहा और अब कांग्रेस ने भी आरजेडी को चेतावनी दे दी है.  कांग्रेस ने कहा है कि अगर हमें सम्मानजनक सीटें नहीं मिलेंगी तो हम 243 सीटों पर चुनाव लड़ने को तैयार हैं.

ये भी पढ़ेंः तेजस्वी का पिछलग्गू बनने से उपेंद्र कुशवाहा का साफ इनकार, जान लीजिए RLSP का क्या होगा अगला कदम

महागठबंधन में सम्मानजनक सीटों पर लड़ेंगी कांग्रेस

बिहार चुनाव के लिए कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अविनाश पांडे शनिवार को इस संबंध में मीडिया से बातचीत की. इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस बिहार विधानसभा की सभी 243 सीटों पर चुनाव लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है.  अगर हम आरजेडी के साथ एक ‘सम्मानजनक’ सीटों तक पहुंचते हैं, तो हम उनके साथ चुनाव लड़ेंगे.

70 से 80 सीट की मांग 

दरअसल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता लगातार मांग करते रहे हैं कि वह 70-80 सीटों पर प्रत्याशी उतारना चाहते हैं. वहीं सूत्रों का कहना है कि आरजेडी उन्हें 50 से 55 सीटें देने को तैयार है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह ने कहा था कि उन्होंने लोकसभा चुनाव में आरजेडी की बात मान ली थी, लेकिन विधानसभा चुनाव में अपने हिसाब से सीटें चाहेंगे.

ये भी पढ़ेंः तेजस्वी से अनबन के बीच उपेंद्र कुशवाहा पर नीतीश कुमार ने दिया बड़ा बयान
Get Daily City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here