कोरोना से बेटे के मौत का गम बर्दाश्त नहीं कर सका पिता, त्यागा प्राण, सदमें में पूरा परिवार

0
7

बेगूसरायः जिले के गढ़पुरा पंचायत के धरमपुर निवासी 33 वर्षीय कोरोना संक्रमित सुनील की मौत का गम पिता लक्ष्मी वर्मा बर्दाश्त नहीं कर पाये. पुत्र की मौत के आठवें दिन गुरुवार को खुद भी प्राण त्याग दिए. 6 मई को कोरोना संक्रमित पुत्र की हुई थी मौत

64 वर्षीय लक्ष्मी वर्मा का दूसरा पुत्र सुनील कोरोना पॉजिटिव हो गया था. परिवार ने इस दौरान करीब चार लाख रुपये से भी अधिक उसके इलाज पर खर्च किया. बावजूद इसके सुनील की मौत 6 मई को इलाज के दौरान बेगूसराय के निजी अस्पताल में हो गई.

गांव में दहशत का माहौल

पुत्र के निधन के बाद सुनील का मुखाग्नि पिता लक्ष्मी वर्मा ने ही दिये थे. अपने पुत्र के श्राद्ध कर्म से पहले ही पिता की अचानक हुई मौत से परिवार के लोग पूरी तरह टूट चुके हैं.  गांव में दहशत का माहौल है. मृतक के छोटे पुत्र सुशील ने बताया कि भाई के मौत के बाद पिता ने ही मुखाग्नि दिये थे. घटना के बाद से ही वह काफी चिंतित थे. बावजूद उनके कर्म की तैयारी चल रही थीं. अचानक पिता के सीने हुई थी दर्द, 2 मिनट में हो गई मौत

ये भी पढ़ेः इस गांव में जली 17 लाशें, सरकारी आंकड़ें में केवल कोरोना से रिकॉर्ड दो, डर के साये में जी रहे लोग

जानकारी के मुताबिक सबकुछ ठीक था. रोजाना की तरह गुरुवार सुबह शौचालय के बाद कुछ लोगों से बात कर घर के अंदर गये. बिस्तर पर लेटते ही सीने में दर्द की बात कहकर पुकारते हुए गिरे और महज दो मिनट के भीतर ही दम तोड़ दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here